मुंबईः सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक शेयरों में सुधार और आईटी शेयरों में सतत लिवाली के चलते घरेलू शेयर बाजारों में तीन दिन की गिरावट बुधवार को थम गई. बीएसई सेंसेक्स 141 अंक से अधिक मजबूत होकर बंद हुआ. आईटी शेयरों के साथ-साथ एफएमसीजी, तेल और गैस खंड के शेयरों में मजबूती ने भी बाजार को बल दिया. कारोबारियों का कहना है कि एशियाई बाजारों में तेजी और कच्चे तेल की कीमतों में नरमी से बाजार धारणा को बल मिला. फरवरी के वायदा विकल्प सौदे गुरुवार को समाप्त हो रहे हैं जिससे पहले सटोरियों ने लिवाली की.

जियोजित फाइनेंसियल सर्विसेज के अनुसंधान प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि लगातार गिरावट के बाद बाजार में बुधवार को सकारात्मक रुख देखने को मिला जहां आईटी शेयरों में तेजी रही तो पीएसयू बैंकों में सुधार आया. निवेशकों को अब भी उचित दिशा का इंतजार है. बीएसई का तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स कारोबार के दौरान 33,911.36 और 33,702.50 अंक के दायरे में रहने के बाद 33,844.86 अंक पर बंद हुआ जो मंगलवार की तुलना में 141.27 अंक की मजबूती दिखाता है.

इस तरह से सेंसेक्स में तीन दिन की गिरावट पर विराम लग गया. बीते तीन सत्रों में यह 593.88 अंक टूटा. नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 37.05 अंक चढ़कर 10,397.45 अंक पर बंद हुआ. यह कारोबार के दौरान 10,426.10 और 10,349.60 अंक के दायरे में रहा.

उद्योग मंडल नासकाम द्वारा सकारात्मक परिदृश्य का अनुमान लगाए जाने के बाद आईटी कंपनियों के शेयरों में आज तेजी रही. टीसीएस का शेयर 3.33 प्रतिशत, आईटीसी दो प्रतिशत व ओएनजीसी का शेयर 1.66 प्रतिशत मजबूत हुआ. इसी तरह एसबीआई, इन्फोसिस, आरआईएल, कोटक बैंक, यस बैंक, एचडीएफसी लिमिटेड, एक्सिस बैंक, मारुति सुजुकी, आईसीआईसीआई बैंक, भारती एयरटेल, विप्रो, डा रेड्डीज व कोल इंडिया का शेयर 1.28 प्रतिशत तक चढ़ा.

गीतांजलि जेम्स का शेयर लगातार छठे सत्र में टूटा. सन फार्मा, इंडसइंड बैंक, टाटा स्टील, टाटा मोटर्स, बजाज आटो, एनटीपीसी, एलएंडटी, एचडीएफसी बैंक, एचयूएल, पावर ग्रिड, एशियन पेंट्स व महिंद्रा एंड महिंद्रा का शेयर टूटकर में बंद हुआ.