नई दिल्लीः भारत-चीन के बीच जारी तनाव के बीच भारत सरकार ने हाल ही में वीडियो ऐप टिकटॉक समेत चीन के 59 एप्स पर बैन (59 Chinese Apps Ban In India) लगा दिया. भारत सरकार द्वारा जिन ऐप्स पर बैन लगााय गया है, उनमें शॉर्ट वीडियो मेकिंग ऐप टिकॉटाक (TikTok Ban In India) पर मालिकाना हक रखने वाली चीनी कंपनी बाइटडांस लिमिटेड के तीन ऐप शामिल हैं. इन ऐप्स पर बैन लगाए जाने के बाद कंपनी को 6 अरब डॉलर से ज्यादा का नुकसान होने का अनुमान जताया जा रहा है. चाइनीज मीडिया ऑर्गनाइजेशन ग्लोबल टाइम्स की ओर से जारी रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत में टिकटॉक बैन के बाद बाइटडांस को 6 अरब डॉलर से ज्यादा का नुकसान हुआ है.Also Read - बड़ी खबर: TikTok कर रहा है भारत में वापसी की तैयारी, इस बार नए नाम के साथ देगा दस्तक

गौरतलब है कि भारत सरकार ने हाल ही में चीन के कुल 59 ऐप्स पर बैन लगा दिया है. जिनमें टिकटॉक के अलावा, यूसी ब्राउजर, हेलो, यूसी न्यूज, वीगो वीडियो, वीचैट और शेयरचैट जैसे ऐप्स शामिल हैं. भारत सरकार के मुताबिक, ये ऐप्स भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के साथ ही डेटा सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं. जिसके चलते इन ऐप्स पर भारत सरकार ने रोक लगा दी है. सरकार द्वारा चीनी ऐप्स पर लगाया गया प्रतिबंध उस समय आया है जब भारत-चीन सीमा पर तनाव जारी है. Also Read - जो बाइडेन ने पलटा ट्रंप प्रशासन का फैसला- TikTok और WeChat पर अमेरिका नें नहीं लगेगी रोक!

चीनी ऐप्स पर बैन के सरकार के इस फैसले पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं भी देखने को मिल रही हैं. जहां कुछ लोग सरकार के इस फैसले की तारीफ कर रहे हैं तो कुछ इसकी आलोचना भी कर रहे हैं. बता दें 15 जून को पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे. वहीं करीब 43 चीनी सैनिक भी इस झड़प में हताहत हुए थे. Also Read - Work from home side effects: ऐप्स पर अपना वक्त बिताने में भारतीय हैं अव्वल, औसतन 4.2 घंटे बीत रहा है समय

ऐसे में सरकार के अचानक लिए चीनी ऐप्स पर बैन के फैसले को इस झड़प से जोड़कर देखा जा रहा है. वहीं चीन के काईशिन ग्लोबल डॉक कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में टिकटॉक के बैन होने से इसके वैश्विक विस्तार को बड़ा झटका लग सकता है.