नई दिल्ली: भारत ने ब्रिटेन में फैले नए कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए ब्रिटेन के लिए उड़ानों की संख्या घटा दी है. केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने मंगलवार को ये जानकारी दी. उन्होंने कहा कि पहले ब्रिटेन के लिए एक सप्ताह में 60 फ्लाइट्स जाती थीं जोकि अब उसकी आधी यानी केवल 30 फ्लाइट ही जाएंगी. Also Read - स्वास्थ्य कर्मियों को लगने वाले टीके TMC कार्यकर्ताओं ने लगवाए इसी वजह से वैक्सीन की कमी हुई: दिलीप घोष

बता दें कि नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने शनिवार को कहा था कि भारत से ब्रिटेन के लिए उड़ान सेवा छह जनवरी से बहाल होगी, वहीं उस देश से यहां के लिए विमान परिचालन आठ जनवरी से पुन: शुरू होगा. Also Read - Vaccination Suspended in Maharashtra: महाराष्ट्र में भी रोका गया कोविड-19 वैक्सीनेशन प्रोग्राम, जानें अब वैक्सीन लगेगी या नहीं..?

हरदीप सिंह पुरी ने कहा, “हमने उपलब्ध तथ्यों के आकलन के आधार पर भारत और यूनाइटेड किंगडम के बीच नागरिक उड्डयन यातायात को सीमित करने पर निर्णय लिया है. हमने तय किया कि यात्रा से 72 घंटे पहले किया गया RTPCR टेस्ट पर्याप्त नहीं है. इसलिए, हमने आगमन पर फिर से टेस्ट करना अनिवार्य कर दिया. यदि आगे कोई कदम उठाना है तो हम पहले स्थिति की समीक्षा करेंगे. ब्रिटेन के लिए कुल उड़ानों की संख्या एक सप्ताह में 60 से घटाकर 30 कर दी गई है.” Also Read - Corona Vaccination in India, Day 1: सफल रहा टीकाकरण अभियान का पहला दिन, 1,91,181 लोगों को लगाया गया टीका

यूके से आने वाली फ्लाइटों के 8 जनवरी से शुरू होने को लेकर नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने आगे कहा कि ये फैसला स्वास्थ्य मंत्रालय की विशेषज्ञ कमेटी ने लिया. उन्होंने कहा था कि सफर से 72 घंटे पहले का टेस्ट काफी नहीं होगा इसलिए हमने आने पर भी एक टेस्ट करने के लिए ​कहा. उन्होंने कहा कि अगर टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आती है तो घर में 7 दिन अनिवार्य क्वारंटीन करने के लिए कहा है. आगे अगर लगेगा कि हमें कोई और कदम उठाने हैं तो हम उन पर विचार करेंगे.

इससे पहले पुरी ने ट्वीट किया, ‘‘भारत और ब्रिटेन के बीच उड़ानों की बहाली: भारत से ब्रिटेन के लिए छह जनवरी 2021 को. ब्रिटेन से भारत के लिए आठ जनवरी, 2021 को. हर सप्ताह 30 उड़ानों का परिचालन होगा. 15 भारतीय विमानन कंपनियों द्वारा और इतनी ही ब्रिटिश कंपनियों द्वारा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह कार्यक्रम 23 जनवरी 2021 तक वैध रहेगा. आगे की संख्या के बारे में समीक्षा के बाद विचार किया जाएगा.’’

पुरी ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि भारत और ब्रिटेन के बीच जब आठ जनवरी को उड़ान सेवाएं बहाल होंगी तो प्रति सप्ताह केवल 30 उड़ानों का परिचालन किया जाएगा और यह व्यवस्था 23 जनवरी तक जारी रहेगी. भारत ने ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नये प्रकार (स्ट्रेन) के सामने आने के बाद 23 दिसंबर से सात जनवरी तक दोनों देशों के बीच सभी यात्री उड़ानों को निलंबित कर दिया था.