नई दिल्लीः लोकसभा में शुक्रवार को मोदी सरकार का अंतिम आम बजट 2019 पेश करते हुए कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि आज भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यस्था बन गया है. उन्होंने कहा कि पांच साल में भारत वैश्विक स्तर पर सबसे बेहतर निवेश स्थल बना. हमारी सरकार ने कमरतोड़ महंगाई की कमर तोड़ दी. उनकी सरकार के कार्यकाल में दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था भारत बना. गोयल ने कहा कि उनकी सरकार ने दोहरे अंक की मुद्रास्फीति को नियंत्रित करने में कामयाबी हासिल की. चालू खाते का घाटा नियंत्रित किया. यह 6 साल पहले 5.6 प्रतिशत की ऊंचाई से घटक 2.5 प्रतिशत पर आ गया. उन्होंने कहा कि दिसंबर 2018 में महंगाई दर घटकर 2.18 प्रतिशत पर आ गई. राजकोषीय घाटे को कम करने में सफलता हासिल की. Also Read - चाणक्यनीति, उर्दू शेर और तमिल कविता के प्रयोग से लेकर 'माफ़ी' तक, निर्मला के लिए यूं ख़ास रहा बजट

इसके साथ ही वित्त मंत्री ने कहा कि दो एकड़ जमीन वाले किसानों को सरकार सालाना छह हजार रुपये की सीधी सहायता राशि मुहैया कराएगी. हमारी सरकार ने किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लिए पहली बार 22 फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य को लागत से 50 फीसदी अधिक कर दिया है. Also Read - अमेरिकी कॉरपोरेट जगत ने भारतीय बजट को सराहा, कहा- ये ‘एप्पल’ जैसी कंपनियों के लिए अच्छा है

उन्होंने कहा कि गांवों के लोगों को शहरों जैसी सुविधाएं मुहैया कराने पर हमारा जोर है. सौभाग्य योजना से लगभग हर घर में मुफ्त बिजली कनेक्शन मुहैया कराया गया. मिशन मोड में निजी सेक्टर को शामिल करके 143 करोड़ LED बल्ब मुहैया कराए. Also Read - बजट पेश होने के बाद बढ़ी पेट्रोल-डीजल की कीमतें, पेट्रोल 2.45 रुपए तो डीजल 2.36 रुपए महंगा