नई दिल्ली: अंतरिम बजट 2019 पेश करते हुए कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने गायों के लिए बजट में एलान किया. गायों के लिए सरकार कामधेनु योजना शुरू करेगी, पशुपालन के लिए भी किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराए जाएंगे. पशुपालन और मछली पालन के लिए कर्ज में 2 फीसदी ब्याज की छूट दी जाएगी. कामधेनु योजना पर 750 करोड़ रुपये खर्च होगा.

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को अंतरिम बजट पेश करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार के पास सुधारों को जारी रखने का निर्णायक जनादेश है और हम 2022 तक ‘न्यू इंडिया’ के लक्ष्य को हासिल करने की ओर अग्रसर हैं. लोकसभा में वित्त वर्ष 2019-20 का बजट पेश करते हुए गोयल ने कहा, ‘‘हम 2022 तक ‘न्यू इंडिया’ के लक्ष्य को हासिल करने की ओर अग्रसर हैं.’ उन्होंने कहा कि हमारे पास व्यवस्थित सुधारों को जारी रखने का निर्णायक जनादेश है. ‘हमने नीतिगत मोर्चे पर अनिर्णय की स्थिति को पलटा है. यह प्रधानमंत्री मोदी की अगुवाई वाली सरकार के कार्यकाल का आखिरी बजट है.

मंत्री ने कहा कि गावों के लोगों को शहरों जैसी सुविधाएं मुहैया कराने पर हमारा जोर है. सौभाग्य योजना से लगभग हर घर में मुफ्त बिजली कनेक्शन मुहैया कराया मिशन मोड में निजी सेक्टर को शामिल करके 143 करोड़ LED बल्ब मुहैया कराए.