नई दिल्ली: आलू, टमाटर, प्याज के साथ-साथ हरी शाक-सब्जियों के दाम में फिर इजाफा हो गया है. तमाम सब्जियों के दाम आसमान चढ़ गए हैं, जिससे आम उपभोक्ता परेशान हैं. खासतौर से आलू और प्याज की महंगाई ने उनकी परेशानी और बढ़ा दी है और सब्जी कारोबारी बताते हैं कि सब्जियों की नई फसल की आवक जब तक शुरू नहीं होगी, तब तक कीमतों में नरमी आने की संभावना नहीं है. लौकी, भिंडी, खीरा, करेला, गोभी समेत तमाम सब्जियों के दाम में बीते सप्ताह के मुकाबले 10 रुपये से 20 रुपये किलो की बढ़ोतरी हुई है. नोएडा निवासी प्रीति सिंह ने कहा कि बाजार में ऐसी कोई सब्जी नहीं है जो 50 रुपये किलो से कम हो. उन्होंने कहा कि आलू, टमाटर और प्याज की महंगाई ने मुश्किलें और बढ़ा दी हैं. Also Read - Zomato और Safal के बीच डील से आपको होगा फायदा, फल और सब्जियों की होगी होम डिलीवरी

ग्रेटर नोएडा के सब्जी विक्रेता पप्पू कुमार ने कहा बताया कि आलू और टमाटर स्टॉक से आ रहा है और सब्जी मंडियों में जितनी मांग है उससे कम आवक हो रही है. आजादपुर मंडी से दिल्ली-एनसीआर में फुटकर सब्जी विक्रेताओं को प्याज की सप्लाई करने वाले कपिल सिंह ने भी बताया कि मंडी में प्याज की आवक कम हो रही है जिसके कारण दाम बढ़ा हुआ है. आजादपुर मंडी एपीएमसी की रेट लिस्ट के अनुसार, बुधवार को मंडी में आलू का थोक भाव 12 रुपये से 51 रुपये किलो था. कारोबारी बताते हैं कि यहां 51 रुपये किलो थोक में मिलने वाला आलू खुदरा में 60 से 80 रुपये किलो तक बिकता है. आजादपुर मंडी में प्याज का थोक भाव 12.50 रुपये से 36.25 रुपये प्रति किलो था. वहीं, टमाटर का थोक भाव 10 रुपये से 43.50 रुपये प्रति किलो था. Also Read - एलपीजी सिलेंडर के भाव बढ़े, पूरे देश में आज से ही लागू हुईं नई दरें

चैंबर्स ऑफ आजादपुर फ्रूट्स एंड वेजिटेबल्स एसोसिएशन के प्रेसीडेंट एम.आर. कृपलानी बताते हैं कि सब्जियों की खपत के मुकाबले आपूर्ति कम होने से कीमतों में इजाफा हुआ है, जबकि फलों की आवक बढ़ने से कीमतों में नरमी आई है. कृपलानी के मुताबिक, सब्जियों की नई फसल की आवक जब तक जोर नहीं पकड़ेगी तब तक कीमतों में नरमी नहीं आएगी. कारोबारी बताते हैं कि सब्जियों की नई फसल की आवक हालांकि अक्टूबर में शुरू हो जाएगी लेकिन नवंबर से पहले आवक जोर पकड़ने लगेगी. आजादपुर मंडी में पिछले साल 30 सितंबर को आलू की आवक जहां 2,543.2 टन था, वहां इस साल 30 सितंबर को आलू की आवक 678.4 टन दर्ज की गई है. Also Read - Coronavirus In Delhi: आजादपुर मंडी में कोरोना के 11 मामले, रोज उड़ती हैं नियमों की धज्जियां, Photos

दिल्ली-एनसीआर में 30 सितंबर को सब्जियों के खुदरा दाम (रुपये प्रति किलो) ;- आलू 40-50, प्याज 50-60, टमाटर 70.-80, फूलगोभी-150, बंदगोभी 60-70, लौकी/घीया-50, तोरई-50, भिंडी-60, खीरा 50-60, कद्दू-50, बैंगन-50, शिमला मिर्च-100-120, पालक-60, करेला-80, परवल 80, कच्चा पपीता-50, कच्चा केला-50, टिंडा-100, कुंदरु-60, मटर-200, धनिया पत्ता-450, हरी मिर्च-120 रुपये प्रतिकिलो था.

दिल्ली-एनसीआर में 23 सितंबर को सब्जियों के खुदरा दाम (रुपये प्रति किलो);- आलू 40-50, फूलगोभी-120, बंदगोभी-50, टमाटर 60-70, प्याज 50-60, लौकी/घीया-40, भिंडी-50, खीरा-40-50, कद्दू-40, बैंगन-40, शिमला मिर्च-100, पालक-60, तोरई-40, करेला-60-70, परवल 70-80, लोबिया-80 रुपये प्रति किलो था.