Vodafone Idea Reported Highest Ever Loss: देश की तीसरी सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया ने बुधवार को कहा कि मार्च 2020 को समाप्त वित्त वर्ष के दौरान उसकी शुद्ध हानि 73,878 करोड़ रुपये रही. लेकिन यह किसी प्रतिद्वंद्वी कंपनी के कारण नहीं है. न ही रिलायंस जियो की वजह है.Also Read - Vodafone Idea ने लॉन्च किए चार धांसू प्लान, मिलेगी अनलिमिटेड कॉलिंग और डाटा की सुविधा

बल्कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुसार सांविधिक बकाए का प्रावधान करने के कारण कंपनी को नुकसान हुआ है. यह किसी भी भारतीय कंपनी को हुई अब तक की सबसे बड़ी वार्षिक हानि है. Also Read - Vodafone Idea यूजर्स के लिए अच्छी खबर, Vi App के जरिए कर सकेंगे COVID 19 वैक्सीन स्लॉट की बुकिंग, जानें कैसे?

न्यायालय ने आदेश दिया था कि सांविधिक बकाए की गणना में गैर-दूरसंचार आय को भी शामिल किया जाएगा, जिसके बाद कंपनी को 51,400 करोड़ रुपये चुकाने हैं. Also Read - Vodafone Idea लेकर आया धमाकेदार ऑफर, डेली 3GB डाटा के साथ मिलेगा 16GB एक्स्ट्रा डाटा, जानें कैसे उठाएं लाभ

कंपनी ने कहा कि इस देनदारी के कारण कंपनी का कामकाम जारी रहने को लेकर गंभीर संदेह पैदा हुए.

वोडाफोन आइडिया (वीआईएल) ने शेयर बाजार को बताया कि मार्च तिमाही के दौरान उसका शुद्ध नुकसान 11,643.5 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले की समान तिमाही के दौरान 4,881.9 करोड़ रुपये था और अक्टूबर-दिसंबर 2019 तिमाही में 6,438.8 करोड़ रुपये था.

कंपनी ने बताया कि मार्च 2020 तिमाही के दौरान परिचालन से आय 11,754.2 करोड़ रुपये रही.

बीते वित्त वर्ष के दौरान कंपनी को 73,878.1 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ. वोडाफोन आइडिया को वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान 14,603.9 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था.