नई दिल्ली: दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया ने रविवार को अपनी सेवाओं की नयी दरें घोषित की जिनके तहत तीन दिसंबर से उसके विभिन्न काल और डाटा प्लान 42 प्रतिशत तक महंगे हो जाएंगे. कंपनी ने रविवार को इसकी घोषणा की. कंपनी चार साल में पहली बार दरें बढ़ा रही है. इसके अलावा कंपनी दूसरे सेवा प्रदाता के नेटवर्क पर की जाने वाली कॉल के लिए छह पैसे प्रति मिनट की दर से शुल्क लेगी.

कंपनी ने एक बयान में कहा कि देश की शीर्ष दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी वोडाफोन आइडिया लिमिटेड आज (रविवार को) प्रीपेड सेवाओं के लिये नये प्लान/दरों की घोषणा करती है. नये प्लान देश भर में तीन दिसंबर 2019 से उपलब्ध हो जायेंगे. कंपनी ने प्रीपेड उपभोक्ताओं के लिये दो दिन, 28 दिन, 84 दिन और 365 दिन की वैधता वाले नये प्लान की घोषणा की. मोटा-मोटी आकलन के हिसाब से नये प्लान पहले की तुलना में 41.2 प्रतिशत तक महंगे हैं. कंपनी ने अनलिमिटेड मोबाइल एवं डेटा की पेशकश करने वाले प्लान की दरें बढ़ायी है तथा कुछ नये प्लान की भी पेशकश की है. कंपनी के एक अधिकारी ने बताया कि अनलिमिटेड श्रेणी के सभी पुराने प्लान की जगह तीन दिसंबर से नये प्लान लागू हो जाएंगे. कंपनी इस फैसले पर बाजार की प्रतिक्रिया देखने के बाद इनमें संशोधन या नये प्लान की पेशकश कर सकती है.

एयरटेल – वोडाफोन आइडिया के बाद अब Reliance Jio ने भी की कॉल रेट्स बढ़ाने की घोषणा

84 दिन की वैधता वाले प्लान की दर 458 से बढ़कर 599 रुपये
कंपनी ने सर्वाधिक 41.2 प्रतिशत की वृद्धि सालाना प्लान में की है और अब इसकी दर 1,699 रुपये से बढ़कर 2,399 रुपये हो जाएगी. रोजाना डेढ़ जीबी डेटा की पेशकश के साथ 84 दिन की वैधता वाले प्लान की दर वर्तमान 458 रुपये से 31 प्रतिशत बढ़कर 599 रुपये हो जाएगी. इसी तरह 199 रुपये वाला प्लान अब 249 रुपये का हो जाएगा. उल्लेखनीय है कि कंपनी के ऊपर करीब 1.17 लाख करोड़ रुपये के कर्ज का दबाव है. सितंबर तिमाही में कंपनी को 50,921 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है. यह किसी भी भारतीय कंपनी को एक तिमाही में हुआ अब तक का सबसे बड़ा घाटा है.