Vodafone-Idea Share: कुमार मंगलम बिड़ला के गैर-कार्यकारी अध्यक्ष के पद से हटने के बाद गुरुवार को वोडाफोन आइडिया के शेयरों में और गिरावट देखी गई है. बिड़ला ने कंपनी को चालू रखने के लिए कर्ज में डूबी कंपनी को अपनी हिस्सेदारी सरकारी संस्थाओं को सौंपने की पेशकश के बाद पिछले तीन दिनों से इसके शेयरों में गिरावट दर्ज की है.Also Read - VI के सबसे सस्ते प्लान, जिनमें मिलेगी डाटा समेत फ्री कॉलिंग की भी सुविधा

सुबह करीब 11.50 बजे, बीएसई पर इसके शेयर 5.33 रुपये पर कारोबार कर रहे थे, जो इसके पिछले बंद से 11.61 प्रतिशत कम है. Also Read - कोरोना काल में इन उद्योगपतियों ने दिया हजारों करोड़ का दान, जानिए- किस बिजनेसमैन ने दिया मुकेश अंबानी से 17 गुना ज्यादा

इसने 4.55 रुपये प्रति शेयर के नए 52 सप्ताह के निचले स्तर को छुआ. Also Read - वोडाफोन ने भारत सरकार के खिलाफ मध्यस्थता अदालत में जीता बड़ा केस, जानिए क्या है पूरा मामला

बुधवार को एक नियामक फाइलिंग में, कंपनी ने कहा, वोडाफोन आइडिया लिमिटेड के निदेशक मंडल ने आज हुई अपनी बैठक में कुमार मंगलम बिड़ला के गैर-कार्यकारी निदेशक और गैर-

कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में पद छोड़ने के अनुरोध को स्वीकार कर लिया है. बोर्ड 4 अगस्त, 2021 को कार्य समय की समाप्ति की वजह से यह प्रभाव है.

नतीजतन, बोर्ड ने सर्वसम्मति से हिमांशु कपानिया, जो वर्तमान में एक गैर-कार्यकारी निदेशक हैं, उनको गैर-कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में चुना है.

कपानिया, आदित्य बिड़ला समूह के नामांकित व्यक्ति, 25 वर्षों के अनुभव के साथ एक दूरसंचार उद्योग के दिग्गज हैं. इसमें वैश्विक स्तर पर दूरसंचार कंपनियों में महत्वपूर्ण बोर्ड अनुभव शामिल है.

बिड़ला का इस्तीफा सार्वजनिक होने के कुछ दिनों बाद आया है कि उन्होंने कैबिनेट सचिव को लिखा था कि वह कंपनी को चालू रखने के लिए कर्ज में डूबी कंपनी को अपनी हिस्सेदारी सरकारी संस्थाओं को सौंपने को तैयार हैं.

वोडाफोन आइडिया जो पहले से ही कमजोर वित्तीय स्थिति में है, एजीआर बकाया राशि में 50,399.63 करोड़ रुपये है. यह पहले ही 7,854.37 करोड़ रुपये का भुगतान कर चुकी है.

(With IANS Inputs)