Wheat Procurement: केंद्र सरकार (Central Government) ने अब तक 432.83 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की है. इतना गेहूं पहले कभी नहीं खरीदा गया. इस सीजन में हुई खरीद ने सत्र 2020-21 के पिछले उच्च स्तर 389.92 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद के आंकड़े को पार कर लिया है? जबकि पिछले साल की इसी समान अवधि में 386.83 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा गया था. राजस्थान में गेहूं की खरीद अब तक के उच्चतम स्तर 23.19 लाख मीट्रिक टन पर पहुंच गई है.Also Read - खर्च में कटौती करने के लिए सरकार की नई पहल, सबसे सस्ती उड़ान के लिए यात्रा से 21 दिन पहले टिकट बुक करें कर्मचारी

लगभग 49.07 लाख किसान मौजूदा रबी विपणन सत्र में एमएसपी मूल्यों पर हुए खरीद कार्यों से लाभान्वित हो चुके हैं और उन्हें 85,483.25 करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है. वर्तमान खरीफ 2020-21 में धान की खरीद इसकी बिक्री वाले राज्यों में सुचारु रूप से जारी है. 27.06.2021 तक 853.89 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान का क्रय किया जा चुका है. Also Read - 'अडाणी ग्रुप जैसे लोग इतने मालदार कैसे हो रहे', सत्यपाल मलिक ने कसा मोदी सरकार पर तंज

मौजूदा खरीफ विपणन सत्र में लगभग 125.99 लाख किसानों को पहले ही एमएसपी मूल्य पर 1,61,213.98 करोड़ रुपये का भुगतान करके खरीद कार्य से लाभान्वित किया जा चुका है. धान की खरीद भी सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गई है और इसने खरीफ विपणन सत्र 2019-20 के पिछले उच्च स्तर 773.45 लाख मीट्रिक टन के आंकड़े को पार कर लिया है. Also Read - EPFO खाताधारकों के लिए बड़ी खुशखबरी, सरकार अकाउंट में भेजेगी 72,000 करोड़ रुपये, ऐसे करें चेक...

(With IANS Inputs)