Rs 2000 note news: 2000 रुपये के नोटों को लेकर कई बार ऐसी खबरें आई हैं कि ये नोट अब बंद होने वाला है. हालांकि इस पर सराकर की तरफ से कभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया था. लेकिन इस बार मोदी सरकार ने 2 हजार के नोट को लेकर जारी अफवाहों पर विराम लगा दिया है. मोदी सरकार ने 2,000 रुपये मूल्यवर्ग के नोटों को लेकर आधिकारिक पुष्टि की है. सरकार ने कहा है कि उसने उच्च मूल्यवर्ग के नोटों (2000 के नोट) को बंद करने का फैसला नहीं किया है, हालांकि, 2,000 रुपये के मूल्यवर्ग के नोटों की छपाई में काफी कमी आई है. Also Read - IPL 2020: पिता की तरह फिटनेस पर ध्यान दे रहे हैं जूनियर जॉन्टी रोड्स, देखें VIDEO

शनिवार को लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में, वित्त राज्य मंत्री, अनुराग ठाकुर ने कहा कि किसी विशेष मूल्यवर्ग के बैंक नोट को छापने को फैसला सरकार, भारतीय रिजर्व बैंक से परामर्श लेकर करती है. उन्होंने कहा कि 2019-20 और 2020-21 के दौरान, प्रेस से 2,000 रुपये के नोट छापने का कोई ऑर्डर नहीं मिला है, हालांकि सरकार की ओर से 2,000 रुपये के नोट को ना जारी रखने का कोई फैसला नहीं लिया गया है. Also Read - दिल्ली में बहाल होगी इंटरस्टेट बस सेवा, डीटीसी और क्लस्टर बसों में 20 सवारियों की लिमिट खत्म

उन्होंने ये भी कहा कि 2,000 रुपये के मूल्यवर्ग के कुल 273.98 करोड़ नोट 31 मार्च, 2020 तक प्रचलन में थे, जबकि 31 मार्च, 2019 में ये संख्या 329.10 करोड़ रुपये थी. वित्त राज्य मंत्री ने बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से सूचित किया गया था कि कोविड-19 महामारी से बचाव और रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन की वजह से स्थायी रूप से 2,000 रुपये के नोट की छपाई रोक दी गई थी. लेकिन केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से जारी गाइडलाइंस के आधार पर प्रेस ने चरणबद्ध तरीके से नोटों की छपाई करना शुरू कर दिया था. Also Read - ट्रैफिक नियम तोड़ने की आदत पड़ी भारी, 2 मीटर लंबा चालान बना, 42,500 रुपए जुर्माना लगा

(इनपुट एजेंसी)