Zoom Class Action Settlement: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्लेटफॉर्म जूम (Video Conferencing Platform Zoom) ने कथित गोपनीयता और सुरक्षा मुद्दों को लेकर एक क्लास-एक्शन मुकदमे (Action Class Issue) में समझौता करने पर विचार कर रही है. द वर्ज की रिपोर्ट के अनुसार, अगर कोई यूजर्स जुलाई से पहले ऐप का उपयोग करता है, तो वे फंड प्राप्त करने के योग्य हो सकते हैं.Also Read - दिल्ली पुलिस का बड़ा खुलासा, निकिता और शांतनु ने बनाई थी ‘टूलकिट’, दिशा ने ग्रेटा थनबर्ग को भेजी

कंपनी आरोपों और किसी भी दायित्व से इनकार करते हुए 8.5 करोड़ डॉलर का भुगतान करने पर सहमत हुई है. Also Read - Zoom को लेकर आई निगेटिव खबरों से Google Meet के बल्ले-बल्ले, हर रोज जुड़ रहे लाखों यूजर्स

यह दावा दायर करने के लिए दो समूह पात्र हैं. अगर कोई यूजर्स 30 मार्च, 2016 और 30 जुलाई, 2021 के बीच जूम मीटिंग ऐप सदस्यता के लिए भुगतान करता है, तो वे उस सदस्यता के लिए भुगतान किए गए 25 या 15 प्रतिशत डॉलर के लिए दावा दायर कर सकते हैं (वैकल्पिक ऐड-ऑन को छोड़कर). Also Read - COVID-19: सुरक्षा कारणों के चलते न्यूयॉर्क सिटी ने Zoom ऐप पर लगाया प्रतिबंध

दूसरा यह है कि अगर उपयोगकर्ता पहले समूह के लिए पात्र नहीं हैं, लेकिन उन्होंने 30 मार्च, 2016 और 30 जुलाई, 2021 के बीच जूम मीटिंग ऐप को पंजीकृत, उपयोग, खोला या डाउनलोड किया है, तो यूजर्स 15 डॉलर के लिए दावा दायर कर सकते हैं.

हालांकि, अगर किसी उपयोगकर्ता ने केवल ‘एंटरप्राइज-लेवल अकाउंट’ या सरकारी खाते के साथ जूम का उपयोग किया है, तो उन्हें निपटान से बाहर रखा गया है.

रिपोर्ट में कहा गया कि यह दावे 5 मार्च, 2022 तक प्रस्तुत किए जाने चाहिए. यूजर्स ऑनलाइन दावा दायर कर सकते हैं या एक पूर्ण दावा प्रपत्र मेल कर सकते हैं.

हालांकि, निपटान की वेबसाइट के अनुसार, कितने लोग दावे प्रस्तुत करते हैं, इसके आधार पर भुगतान राशि ‘बढ़ या घट सकती है’.

निपटान को अदालत द्वारा प्रारंभिक रूप से अनुमोदित किया गया है और अंतिम अनुमोदन सुनवाई 7 अप्रैल, 2022 के लिए निर्धारित की गई है.

(With IANS Inputs)