भारत में इंजीनियरिंग और टेक्निकल कोर्स कराने के नाम पर 277 फेक इंजीनियरिंग कॉलेज चल रहे हैं. इसमें 66 दिल्ली में हैं. लोक सभा में सोमवार को राज्य मानव संसाधन विकास मंत्री सत्य पाल सिंह ने जो दस्तावेज पेश किए, उसके अनुसार राष्ट्रीय राजधानी के अलावा तेलंगाना और पश्चिम बंगाल में भी क्रमश: 35 और 27 फेक इंजीनियरिंग कॉलेज चलाए जा रहे हैं. Also Read - Coronavirus: UGC ने यूनिवर्सिटीज को जारी की एडवाइजरी, कैम्‍पस में ज्‍यादा इकट्ठा होने से बचें

फेक कॉलेजों की इस सूची में 23 कनार्टक, 22 उत्तर प्रदेश, 18 हरियाणा, 16 महाराष्ट्र और 11 तमिलनाडु के इंजीनियरिंग कॉलेज शुमार हैं. Also Read - National Education Day 2019: कौन थे पहले शिक्षा मंत्री? राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के रूप में मनाया जाता है इनका जन्म दिन

इन कॉलेजों को ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्नीकल एजुकेशन(AICTE) की ओर से मान्यता प्राप्त नहीं है. इन कॉलेजों को AICTE से स्वीकृति लेने का निर्देश दिया गया है. वरना इन्हें बंद कर कर दिया जाएगा. Also Read - भारतीय छात्रों ने अमेरिका में फर्जी यूनिवर्सिटी में लिया एडमिशन, अरेस्ट होने पर लोकसभा में उठा मुद्दा

इस मामले पर यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन UGC भी नजर बनाए हुए है. कमीशन ने हाल ही में राज्यों को इस मामले में लिखित निर्देश भेजा है और जरूरी कदम उठाने को कहा है. यूजीसी की वेबसाइट पर पहले से 24 फेक यूनिवर्सिटीज की लिस्ट दी गई है.

CBSE CTET 2018: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन आज से शुरू, ctet.nic.in पर ऐसे करें आवेदन

फेक इंजीनियरिंग कॉलेजों की सूची

दिल्ली- 66

तेलंगाना- 35

पश्चिम बंगाल- 27

कर्नाटक- 23

उत्तर प्रेदश- 22

IGNOU Admission 2018: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की लास्ट डेट बढ़ी, जानें नई तारीख

हिमाचल प्रदेश- 18

बिहार- 17

महाराष्ट्र- 16

तमिलनाडु – 11

गुजरात- 8

आंध्र प्रदेश- 7

चंडीगढ़- 7

पंजाब- 5

राजस्थान- 3

उत्तराखंड- 3

एजुकेशन और करियर की अन्य खबरों को पढ़ने के लिए करियर न्यूज पर क्लिक करें.