Bihar Board 10th Result 2020: बिहार स्कूल एजुकेशन बोर्ड (BSEB) ने कक्षा 10वीं बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट 26 मई को दोपहर 12:30 बजे जारी कर दिया है. लगभग 16 लाख छात्रों को बोर्ड परीक्षा रिजल्ट का बेसब्री से इंतजार है. बिहार बोर्ड की इस घोषणा के साथ देश का पहला ऐसा बोर्ड बन जाएगा जिसने कोरोना वायरस महामारी के दौरान कक्षा 10वीं और 12वीं दोनों बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट जारी किए हैं.Also Read - Bihar Board Exam: परीक्षा हॉल में जूता-मोजा पहनने की मनाही, ठंड में चप्पल पहनने को मजबूर छात्र

बता दें कि पिछले साल 80.73 फीसदी छात्रों ने परीक्षा पास की थी. किसी भी छात्र को व्यक्तिगत रूप से पास होने के लिए किसी भी एक विषय में 30 प्रतिशत अंक प्राप्त करने की आवश्यकता होती है. इसके अलावा जो छात्र एक परीक्षा में 8 प्रतिशत से कम अंतर या दो विषयों में 4 प्रतिशत से कम अंकों के साथ दो विषय में फेल हुए हैं, तो उन्हें नियमानुसार ग्रेस मार्क्स देकर पास कर दिया जाता है. Also Read - Bihar Board Exam 2022: बिहार बोर्ड की 10वीं और 12वीं परीक्षा में बैन हुआ जूता-मोजा, जान लें ये नये नियम

Bihar Board 10th Result 2020 कब, कैसे और कहां करना है चेक  Also Read - Bihar Board Exam 2022: तय तारीखों पर होगी कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा, जानें कब होंगे प्रैक्टिकल एग्जाम

छात्र जो इस परीक्षा में शामिल हुए हैं, वे अपना रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट – biharboardonline.bihar.gov.in, onlinebseb.in, bsebresult.online, bsebonline.org, biharboard.online पर जाकर ऑनलाइन देख सकते हैं.

आधिकारिक बयान के अनुसार रिजल्ट दोपहर 12:30 बजे उपलब्ध होगा. हालाँकि भारी ट्रैफ़िक के कारण वेबसाइट पर रिजल्ट देखने में थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. पिछले साल रिजल्ट की घोषणा के 24 घंटे तक रिजल्ट का लिंक सक्रिय नहीं हुआ था और बोर्ड को इसकी वजह से काफी आलोचना का सामना करना पड़ा था. इस वर्ष बीएसईबी ने समय पर रिजल्ट घोषित करने के लिए तकनीक-आधारित पहल करने के बारे में जानकारी दी थी.

कोरोना महामारी की वजह से रिजल्ट व्यक्तिगत स्कूलों में प्रदर्शित नहीं किया जाएगा और छात्रों को केवल आधिकारिक वेबसाइटों पर जाकर रिजल्ट चेक करना होगा. इसके अलावा बिहार बोर्ड ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि प्रत्येक वर्ष की तरह बोर्ड के अध्यक्ष द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए छात्रों को मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से संबोधित किया जाता था, जो इस बार सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए आयोजित नहीं किया जाएगा.