पटना. बिहार के छात्रों को अब लैपटॉप खरीदने के लिए आर्थिक स्थिति उनके आड़े नहीं आएगी. राज्य सरकार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड (SCC) योजना के तहत अब छात्रों को लैपटॉप देने की योजना बना रही है. बिहार शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि विभाग स्टूडेंट क्रेडिट कॉर्ड से करीब 50 हजार छात्रों को लैपटप देने की तैयारी में है. उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग में स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड स्कीम के तहत लैपटॉप देने का नया प्रावधान किया गया है. उल्लेखनीय है कि सरकार छात्र-छात्राओं को शिक्षा ऋण के रूप में सरकार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के तहत ऋण उपलब्ध करवाती है. इस ऋण के प्रति छात्रों की दिलचस्पी भी बढ़ी है.

सूत्रों के मुताबिक, छात्र-छात्राओं को कॉलेज फीस और छात्रावास के खर्च के साथ ही इसकी अलग से सुविधा मिलेगी. लैपटॉप के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कॉर्ड से ऋण की स्वीकृति तकनीकी, मेडिकल और आईटी (सूचना प्रौद्योगिकी) के विद्यार्थियों को दी जाएगी. छात्र लैपटॉप के लिए अधिकतम 50,000 की राशि ले सकेंगे. सूत्रों का कहना है कि शिक्षा विभाग ने इस मामले का एक प्रस्ताव तैयार कर लिया है और जल्द ही मंत्रिमंडल की बैठक में इसे मंजूरी के लिए भेजा जाएगा.

गौरतलब है कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लोक संवाद कार्यक्रम के तहत एक छात्र ने तकनीकी क्षेत्र में पढ़ाई करने वाले छात्रों के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कॉर्ड से लैपटॉप लेने की अनुमति देने का सुझाव दिया था. छात्र ने कहा था कि स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना में लैपटॉप को शामिल नहीं किया गया है. इसके बाद मुख्यमंत्री ने शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को इस मामले में प्रयास करने का निर्देश दिया था.