CBSE Board Exams 2021, CBSE 10th Board Exams 2021, CBSE 12th Board Exams 2021 Exams Date Sheet News: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE EXAM Dates sheet) के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने शुक्रवार को कहा कि कक्षा 10 और कक्षा 12 के लिये होने वाली बोर्ड परीक्षाएं (10th 12th CBSE board Exam) जरूर होंगी और इनके लिये कार्यक्रम जल्द घोषित किये जाने की उम्मीद है. विभिन्न संगठनों द्वारा कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने या स्थगित किये जाने की मांग के बीच त्रिपाठी का यह बयान आया है.Also Read - CBSE Board Exam Update: सीबीएसई ने जारी की 10वीं, 12वीं कक्षा के माइनर विषयों की डेटशीट, इस लिंक से करें Download

एसोचैम द्वारा ‘नयी शिक्षा नीति: स्कूली शिक्षा के लिये उज्ज्वल भविष्य’ विषय पर आयोजित एक वेबिनार के दौरान उन्होंने कहा, “बोर्ड परीक्षाएं अवश्य होंगी और इनका कार्यक्रम जल्द ही घोषित किया जाएगा. सीबीएसई इसके लिये योजना बना रहा है और जल्द ही इस बात का खुलासा किया जाएगा कि परीक्षा का मूल्यांकन कैसे किया जाएगा.” Also Read - CBSE Board Exam Update: 10वीं, 12वीं बोर्ड परीक्षा को लेकर सीबीएसई ने दिया बड़ा अपडेट, 'जो छात्र अपने शहर में नहीं हैं उन्हें...'

उन्होंने हालांकि इस पर टिप्पणी नहीं की कि क्या परीक्षा समान प्रारूप में और तय कार्यक्रम के अनुसार फरवरी-मार्च में आयोजित की जाएगी अथवा इसे स्थगित किया जाएगा. Also Read - CBSE CTET 2021: शिक्षक पात्रता परीक्षा में आवेदन की बढ़ाई गई तारीख, जल्दी भरें फॉर्म

त्रिपाठी ने कहा, “मार्च-अप्रैल के दौरान हम घबराये हुए थे कि आगे कैसे बढ़ेंगे, लेकिन इस मौके पर हमारे विद्यालयों और शिक्षकों ने शानदार काम किया और शिक्षण कार्य के लिये नई प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल के उद्देश्य से खुद में बदलाव किया और खुद को प्रशिक्षित किया. कुछ ही महीनों में विभिन्न ऐप का इस्तेमाल कर ऑनलाइन कक्षाएं लेना समान्य बात हो गई.”

कोरोना वायरस संक्रमण का प्रसार रोकने के लिये देश भर में मार्च में विद्यालय बंद कर दिये गए थे और 15 अक्टूबर के बाद कुछ राज्यों में आंशिक रूप से इन्हें खोला गया. कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए हालांकि कुछ राज्यों ने विद्यालयों को फिर से बंद करने का फैसला किया है.

आधी परीक्षाओं के बाद बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करना पड़ा था और बाद में उन्हें रद्द किया गया तथा नतीजों की घोषणा वैकल्पिक आकलन योजना के आधार पर की गई.