CBSE term exams 2021 guidelines: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने परीक्षा से पहले स्कूलों के लिए दिशानिर्देशों की एक सूची जारी की है. इसके साथ ही बोर्ड ने कहा है कि कक्षा 10 और कक्षा 12 के छात्रों के लिए टर्म 1 की बोर्ड परीक्षा की डेट शीट 18 अक्टूबर को जारी की जाएगी. परीक्षा नवंबर-दिसंबर, 2021 में आयोजित होगी. बोर्ड ने कहा कि यह एक ऑब्जेक्टिव टाइप की परीक्षा होगी और प्रत्येक की अवधि 90 मिनट होगी. गौरतलब है कि सीबीएसई बोर्ड प्रथम चरण की परीक्षा अगले महीने से शुरू होने जा रही हैं.Also Read - CTET 2021 Registration: कल CTET 2021 के लिए आवेदन करने की है आखिरी डेट, इस Direct Link से जल्द करें अप्लाई

इस साल होने वाली सीबीएसई 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के पैटर्न अगले वर्ष 2022 में होने वाली दूसरे चरण की बोर्ड परीक्षा से अलग होगा. सीबीएसई फिलहाल प्रथम चरण की परीक्षाओं की डेट शीट तैयार कर रहा है, जिसे 18 अक्टूबर को घोषित किया जाएगा. इसके अलावा सीबीएसई ने कक्षा 10, 12 की टर्म परीक्षाओं के लिए दिशानिर्देश भी जारी कर दिए हैं, जिसमें समय, तारीख, बैठने की व्यवस्था, आंसर की, रिजल टेड आदि शामिल हैं. छात्र सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट- cbse.nic.in पर एक सैंपल प्रश्न पत्र भी देख सकते हैं. Also Read - CBSE Board Exam Update: सीबीएसई ने जारी की 10वीं, 12वीं कक्षा के माइनर विषयों की डेटशीट, इस लिंक से करें Download

सीबीएसई कक्षा 10, 12 टर्म परीक्षा प्रोटोकॉल (CBSE Class 10, 12 term exams protocols)

1. कौशल विषय (Skill Subjects) की परीक्षा दिनांक 15/11/2021 से प्रारंभ होगी और मेजर सब्जेक्ट यानी मुख्य विषयों की परीक्षा 24/11/2021 से शुरू होगी. Also Read - CBSE CTET 2021: शिक्षक पात्रता परीक्षा में आवेदन की बढ़ाई गई तारीख, जल्दी भरें फॉर्म

2. ओएमआर शीट क्लाउड पर उपलब्ध होगी और वहां से डाउनलोड की जा सकेगी.

3. एन्क्रिप्टेड प्रश्न पत्र सुबह स्कूल/परीक्षा केंद्र पर भेजे जाएंगे.

4. परीक्षा की अवधि 90 मिनट होगी.

5. कक्षा 10 और 12 को छोड़कर बाकी के कक्षाओं की पढ़ाई प्रातः 08:00 बजे से 11:00 बजे या 11:30 बजे के बीच होंगे.

6. परीक्षा नियंत्रण कक्ष में दोपहर 01:30 बजे तक ओएमआर शीट जमा करानी होगी.

7. मूल्यांकन दोपहर 01:30 बजे से शाम 05:00 बजे तक होगा.

8. कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए एक कमरे में 12 छात्रों के बैठने की व्यवस्था की जानी है.

9. एक केंद्र में प्रति पर्यवेक्षक 500 छात्रों की क्षमता है और पर्यवेक्षक आवश्यकता के अनुसार बदल सकता है.

10. नगर समन्वयक (City Coordinator) पर्यवेक्षकों की नियुक्ति करेगा और आवश्यकता/अनुरोध के अनुसार बीच-बीच में पर्यवेक्षकों को बदलेगा.

11. उत्तर पुस्तिकाएं दोपहर 01:30 बजे तक परीक्षा विभाग को जमा करानी है. किसी भी विषय के शिक्षक ओएमआर शीट की जांच कर सकते हैं.

12. मूल्यांकनकर्ता को सही उत्तरों की संख्या अपलोड करनी होगी.

13. कक्षा में 20 छात्र बैठ सकेंगे, लेकिन एक कमरे में केवल 12 छात्रों को बैठने की अनुमति होगी.

14. छात्र दोपहर 01:30 बजे तक उत्तर कुंजी की जांच कर सकेंगे.

15. कक्षा 10 और 12 के छात्रों को टर्म 1 की परीक्षा देनी होगी.

16. टर्म 1 के लिए प्रैक्टिकल परीक्षा स्कूल अधिकारियों द्वारा आयोजित की जाएगी और टर्म 2 परीक्षा सीबीएसई द्वारा हमेशा की तरह आयोजित की जाएगी.