नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वार 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए अहम फैसला लिया जा सकता है. बोर्ड परीक्षा पाठ्यक्रम में एक तिहाई सिलेबस की कटौती की योजना बना रहा है. इंडियन एक्सप्रेस खबर के मताबिक कोरोना वायरस महामारी के दौरान छात्रों को पढ़ाई का काफी नुकसान हुआ है. इस कारण 10वीं व 12वीं के छात्रों के पाठ्यक्रम में सिर्फ इसी साल कटौती की जाएगी. इससे छात्रों को थोड़ा राहत मिलेगी. बोर्ड जल्द ही सिलेबस में कटौती का ऐलान करेगा. Also Read - मनदीप सिंह COVID-19 से संक्रमित होने वाले छठे भारतीय हॉकी खिलाड़ी बने, बेंगलुरू में चल रहा इलाज

यही नहीं CISCE के 10वीं और 12वीं के छात्रों पर से अब सिलेबस का बोझ कम हो जाएगा। CISCE ने कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से पैदा हुई स्थिति के मद्देनजर छात्रों के नुकसान की भरपाई करने का फैसला किया है. इस दौरान पाठ्यक्रम में 25 प्रतिशत कटौती की जाएगी. बता दें कि CBSE और CISCE द्वारा यह सिर्फ 2020-21 के छात्रों के मद्देनजर लिया जा रहा है क्योंकि कोरोना महामारी के दौरान और लॉकडाउन के कारण पढ़ाई में रुकावट का छात्रों को सामना करना पड़ा है. Also Read - Coronavirus Cases In India: देश में शुरू हुआ कोरोना का सबसे बुरा दौर, 24 घंटे में 1000 से अधिक लोगों की मौत

बता दें कि देश में लॉकडाउन के कारण पिछले 3 महीनों से स्कूल बंद हैं. इसके बाद से स्कूलों में ऑनलाइन क्लासेस कराई जा रही हैं. लेकिन इस दौरान पढ़ाई के घंटों में कमी भी आई है. गौरतलब है कि देश में लॉकडाउन के कारण देशभर में 12वीं की परीक्षाओं को सीबीएसई द्वारा रद्द कर दिया गया है. 15 जुलाई के दिन उम्मीद है कि छात्रों का रिजल्ट जारी किया जाएगा. Also Read - IPL 2020 : ब्रेट ली ने IPL में खेलने वाले क्रिकेटर्स को UAE में प्ले कार्ड खेलने और गिटार सीखने की क्यों दी सलाह, जानिए वजह