दिल्ली के सरकारी स्कूलों में माध्यमिक कक्षाओं में प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक (Trained Graduate Teacher) के पदों पर आवेदन करने की अधिकतम आयु 32 वर्ष की वर्तमान सीमा से घटाकर 30 वर्ष कर दी जाएगी. रिपोर्टों के अनुसार, शिक्षा निदेशालय ने प्रस्तावित नए टीजीटी भर्ती नियमों में दो साल तक आवेदन करने की आयु सीमा घटा दी है.

प्रस्तावित नए नियमों के अनुसार, अब माध्यमिक कक्षाओं में हिंदी, संस्कृत, उर्दू, पंजाबी, बंगाली (भाषा शिक्षक) सहित अंग्रेजी, गणित, सामाजिक विज्ञान, शारीरिक विज्ञान / प्राकृतिक विज्ञान में शिक्षकों के पदों के लिए आवेदन करने की अधिकतम आयु 32 के बजाय 30 साल कर दी गई है. हालांकि, केंद्र सरकार से आवेदन करने वाले सरकारी कर्मचारियों को आयु सीमा में पांच साल की छूट दी जाएगी.

Times Global Ranking: ग्लोबल स्तर पर JNU का बजा डंका, DU ने भी किया कमाल

अतिथि शिक्षक (Guest Teachers) इस नए प्रस्तावित भर्ती नियम से खुश नहीं हैं. ऑल इंडिया गेस्ट टीचर्स एसोसिएशन ने कहा है कि चार साल बाद DSSSB (Delhi Subordinate Services Selection Board) ने 2017 में शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं और 2018 में परीक्षा आयोजित की है. इसके अलावा, DSSSB से 10 हजार से अधिक पदों के लिए भर्ती आयोजित करने और आयु सीमा में कमी लाने की उम्मीद है. इस कारण ये भर्ती नियम कई अतिथि शिक्षकों और अन्य लोगों के साथ अन्याय करेगा.

रिपोर्ट के अनुसार आयु सीमा में कमी के अलावा, डीओई रिपोर्ट ने माध्यमिक कक्षाओं में शिक्षण के लिए सीधी भर्ती को प्राथमिकता दी है. इसके तहत, DoE (Directorate of Education) ने प्रस्तावित नियमावली में प्रमोशन कोटे को कम करने का निर्णय लिया है. भाषा सहित सरकारी स्कूलों में विषय शिक्षकों के रिक्त पदों को भरने के लिए प्रमोशन कोटा 20% होगा. वहीं, 80 प्रतिशत सीधी भर्ती होगी. पिछले भर्ती और प्रमोशन नियमों के अनुसार, सरकारी स्कूलों में टीजीटी के 75% पद प्रमोशन द्वारा और 25% सीधी भर्ती से भरे गए थे.

IBPS RRB Clerk Prelims 2019 का रिजल्ट जारी, फोन पर नहीं देख पाएंगे, आपको यहां करना पड़ेगा लॉग इन