नई दिल्ली: देश में 25 मार्च के बाद से 31 मई तक चले लॉकडाउन के दौरान देशभर के सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया था. इस बीच जब लॉकडाउन को धीरे धीरे कर हटाया जा रहा है तो सवाल यह सामने आता है कि क्या राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गर्मी की छुट्टियों के बाद स्कूलों को कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रभाव के बीच खोला जाएगा. क्या स्कूलों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए या ऑनलाइन माध्यमों सो चालू किया जाएगा.Also Read - सऊदी अरब में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले, भारत समेत इन देशों में यात्रा करने पर लगा प्रतिबंध

सरकार और निजी स्कूलों के सूत्रों की मानें तो दोनों का ही मानना है कि दिल्ली में कोरोना संक्रमण पहले की अपेक्षा काफी ज्यादा फैल चुका है. ऐसे में बच्चों को स्कूल आने के लिए कहना खतरनाक साबित हो सकता है. बता दें कि नर्सरी से कक्षा 8 तक के बच्चे 11 मई से गर्मी की छुट्टियों पर हैं. बाकी अन्य क्लासेस को 29 मई से बंद किया गया है. 25 मार्च के देश में कोरोना माहमारी को रोकने के लिए लॉकडाउन लागू कर दिया गया था. इसी दौरान स्कूलों को भी बंद कर दिया गया था. Also Read - महिला आशा स्वयंसवकों को WHO ने किया सम्मानित, पीएम नरेंद्र मोदी बोले- आपका समर्पण सराहनीय है

इस दौरान स्कूलों की क्लासेस ऑनलाइन माध्यमों, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, रिकॉर्डेड विडियो व ऑडियो के जरिए कक्षाओं को संचालित किया गया साथ ही व्हाट्सऐप और ईमेल के जरिए भी कक्षाओं को चलाया गया. इस बाबत महामारी को देखते हुए CBSE और NCERT दोनों ने ही वर्ष 2020-21 शैक्षणिक वर्ष के पाठ्यक्रम और मूल्यांकन प्रक्रिया को संशोधित करने में लगे हुए हैं. दिल्ली के कई निजी स्कूल अगले हफ्ते तक ऑनलाइन क्लास की तैयारियों के लिए शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं. Also Read - देश में ओमिक्रॉन के सब वेरिएंट BA.4 और BA.5 की सरकार ने की पुष्टि, तमिलनाडु और तेलंगाना में मिले मरीज