DU Admissions 2020: दिल्ली विश्वविद्यालय ने शनिवार को अपने विभिन्न स्नातक, स्नातकोत्तर, एमफिल और पीएचडी पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी है. पाठ्यक्रमों के लिए पंजीकरण 4 जुलाई तक यानी दो सप्ताह के लिए विंडो खुली रहेगी. पिछले साल एडमिशन के लिए पंजीकरण करने के लिए आवेदकों को 30 मई से 22 जून तक यानी तीन सप्ताह के लिए विंडो खुली थी. उम्मीदवारों के लिए इंफॉर्मेशन बुलेटिन विश्वविद्यालय की वेबसाइट du.ac.in पर अपलोड कर दिया गया है. साथ ही पंजीकरण पोर्टल भी खोला गया है. Also Read - DU Admission 2020 Date: डीयू ने एडमिशन के लिए पंजीकरण प्रक्रिया की बढ़ाई डेट, जानें यहां कब तक कर सकते हैं अप्लाई 

विश्वविद्यालय की डीन (प्रवेश) शोभा बगई ने शनिवार को कहा कि इस बार प्रवेश प्रक्रिया “कॉन्टैक्ट लेस” और पूरी तरह से ऑनलाइन होगी. उन्होंने ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, “विश्वविद्यालय काफी समय से इसकी योजना बना रहा था लेकिन कोविड -19 महामारी ने इस प्रक्रिया को उत्प्रेरित किया.” पिछले वर्षों की बात करें तो उम्मीदवार अपने संदेह को स्पष्ट करने या प्रवेश प्रक्रियाओं का पालन करने के लिए विश्वविद्यालय और कॉलेजों का दौरा कर सकते थे, लेकिन इस बार सब कुछ ऑनलाइन किया जाएगा. Also Read - DU Open Book Revised Date Sheet: डीयू ने एग्जाम के लिए जारी किया रिवाइज्ड डेटशीट, इस तारीख से होगी परीक्षा, जानें डिटेल

उन्होंने कहा कि इससे पहले हमारे पास ऑनलाइन मार्कशीट सत्यापित करने के लिए सीबीएसई पोर्टल के साथ एक लिंक था. इस बार, हमने देश भर के सभी शैक्षिक बोर्डों को पोर्टल के लिंक को साझा करने के लिए लिखा है जहां उनके परिणाम घोषित किए जाएंगे ताकि कॉलेज मार्कशीट को आसानी से सत्यापित किया जा सकें.  छात्रों के लिए प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए विश्वविद्यालय हर साल सूचना का एक बुलेटिन साझा करता है जिसका उपयोग उनके प्रश्नों को संबोधित करने के लिए किया जा सकता है. हालांकि, कोविड -19 महामारी और सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने की आवश्यकता के कारण परिसर में हर साल आयोजित होने वाले ओपन डे कार्यक्रम इस साल नहीं होंगे. Also Read - DU Open Book Online Exam 2020: दिल्ली विश्वविद्यालय ने पोस्टपोन किया ओपेन बुक एग्जाम, जानिए अब कब होगी परीक्षा

बागई ने कहा, “हमने विश्वविद्यालय और कॉलेज स्तर पर हेल्पलाइन डेस्क बनाए हैं जहाँ छात्र अपने प्रश्नों को पोस्ट कर सकते हैं. हम प्रक्रिया के माध्यम से छात्रों का मार्गदर्शन करने वाले वेबिनार भी आयोजित करेंगे.” हालांकि, प्रवेश समिति अभी तक कट-ऑफ या प्रवेश के लिए अस्थायी अनुसूची जारी नहीं कर सकी है. बागई ने बताया कि यह सीबीएसई के नतीजों को लेकर अनिश्चितता के कारण है. उन्होंने कहा, “इससे पहले हमें बताया गया था कि सीबीएसई का रिजल्ट 15 अगस्त के आसपास आने की संभावना है क्योंकि 1 से 15 जुलाई के बीच अपनी लंबित कक्षा 12वीं की परीक्षा आयोजित करने की बात कही थी. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने सीबीएसई को अन्य विकल्पों की तलाश करने के लिए कहा है, एक संभावना है कि रिजल्ट जल्द ही घोषित किया जा सकता है. हम जुलाई के तीसरे सप्ताह तक अपना अस्थायी कार्यक्रम जारी करेंगे, जब चीजें स्पष्ट होंगी.”