Delhi University Exam: दिल्ली विश्वविद्यालय के ऐसे छात्र जो परीक्षाएं नहीं दे सके थे, उन्हें परीक्षाएं देने का एक और अवसर प्रदान किया जाएगा. दिल्ली विश्वविद्यालय ने कोरोना महामारी के मद्देनजर यह निर्णय लिया है. दरअसल यह दूसरा अवसर केवल ऐसे छात्रों को ही दिया जाएगा जो कोरोना से पीड़ित होने के कारण परीक्षाओं में शामिल नहीं हो सके थे. कोरोना से पीड़ित कई छात्र पिछली बार हुई सेमेस्टर परीक्षा नहीं दे सके थे. यह परीक्षाएं ओपन बुक एग्जाम यानी ओबीई के माध्यम से ली गई थी. दिल्ली विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग ने इन सभी छात्रों को फिर से ओपन बुक एग्जाम के जरिए ऑनलाइन परीक्षा में शामिल होने का विकल्प दिया है. गौरतलब है कि दिल्ली विश्वविद्यालय में 30 नवंबर से परीक्षाएं शुरू होने जा रही हैं. दिल्ली विश्वविद्यालय के मुताबिक यूजी, पीजी, एनसीवेब व एसओएल के छात्र इन परीक्षाएं दे सकते हैं. नियमित कॉलेज व एनसीवेब के छात्र परीक्षा में बैठने के लिए 27 नवंबर तक परीक्षा फॉर्म भर सकते हैं.Also Read - कब खत्म होगी कोरोना महामारी, क्या लोगों को हमेशा लगाना होगा मास्क? जानें अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने क्या कहा...

दिल्ली विश्वविद्यालय इस बार भी ओपन बुक एग्जाम मोड के जरिए ऑनलाइन परीक्षाओं का आयोजन करेगा. दिल्ली विश्वविद्यालय परीक्षा विभाग के डीन प्रोफेसर डीएस रावत ने यह जानकारी दी. दरअसल दिल्ली विश्वविद्यालय अभी तक सभी छात्रों के लिए नहीं खोला जा सका है. फिलहाल विश्वविद्यालय कैंपस को विज्ञान के छात्रों के लिए सीमित संख्या में खोला गया है. यह छात्र भी केवल 50 फीसदी की संख्या में ही विश्वविद्यालय आ सकते हैं. Also Read - Delhi में थम रही कोरोना की रफ्तार! बीते 24 घंटे में संक्रमण के नए मामलों से ज्यादा लोगों ने दी इस बीमारी को मात

दूसरी ओर दिल्ली विश्वविद्यालय के हजारों छात्र देश के अलग-अलग राज्यों में हैं. इनमें से कई छात्र केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, बिहार, जम्मू कश्मीर समेत अन्य राज्यों से संबंधित है. ऐसे में विश्वविद्यालय ऑनलाइन परीक्षाओं के विकल्प को ही बेहतर मान रहा है. प्रोफेसर डीएस रावत के मुताबिक मौजूदा स्थिति में ऑफलाइन परीक्षाएं कराना संभव भी नहीं है। इसलिए यह परीक्षाएं ऑनलाइन कराई जा रही हैं. वहीं दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा जारी कैलेंडर के मुताबिक प्रथम वर्ष में दाखिला लेने वाले छात्रों की पहली परीक्षा वर्ष 2022 में आयोजित की जाएंगी. यह परीक्षाएं 21 मार्च से 4 अप्रैल के बीच होंगी. Also Read - Coronavirus Cases: एक दिन में कोरोना से 2.58 लाख लोग हुए संक्रमित, 385 लोगों की मौत

बता दें कि दिल्ली विश्वविद्यालय में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के तहत अधिकांश दाखिले पूरे हो चुके हैं. विश्वविद्यालय 22 नवंबर से नया बैच भी शुरू कर चुका है. 23 नवंबर से फस्र्ट ईयर के इन छात्रों की ऑनलाइन कक्षाएं भी शुरू हो गई हैं, लेकिन दिल्ली विश्वविद्यालय के विभिन्न कॉलेजों में ईडब्ल्यूएस और कश्मीरी विस्थापितों समेत सामान्य श्रेणी के लिए कुछ सीटों पर अभी भी दाखिले हो रहे हैं.

(इनपुट: IANS)