NEET Result 2020: कभी-कभी मशीन या इंसान से ऐसी गलती हो जाती है जिसकी भारी कीमत चुकानी पड़ जाती है. ऐसा ही एक मामले में कंप्यूटर एरर या ह्यूमन एरर को मान सकते हैं, जिसने NEET 2020 का रिजल्ट अपलोड किया था. इस रिजल्ट ने एक छात्रा को इतना इंकझोर दिया था कि उन्होंने मौत को ही गले लगा लिया. यह मामला मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले की है. छात्रा ने जब अपने नाम के आगे केवल 6 अंक देखें, जिसके बाद उन्होंने सुसाइड कर लिया. Also Read - Rajasthan News Today 20 October 2020: नीट रिजल्ट की सबसे बड़ी गड़बड़ी, टॉपर छात्र को फेल घोषित किया, फिर...

छात्रा के परिवार को नीट के इस रिजल्ट पर भरोसा नहीं था इसलिए उन्होंने OMR शीट ओपन कराई, जिसमें छात्रा को 590 नंबर मिले. बता दें कि विधि सूर्यवंशी डॉक्टर बनकर लोगों की सेवा करना चाहती थी. उन्होंने NEET Exam को क्लियर करने के लिए काफी मेहनत की थी. जब NEET की परीक्षा का रिजल्ट हाल ही में घोषित किया गया था तब उन्हें सिर्फ 6 मार्क्स मिले, जिसकी वजह से वह मानसिक तौर पर पूरी तरह टूट गई थी. Also Read - NEET Result 2020: नीट परीक्षा में सबसे अधिक यूपी के बच्चे रहे सफल, जानें यहां किस राज्य का क्या रहा परफॉर्मेंस

जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि परासिया की मैग्जीन लाइन निवासी गजेंद्र सूर्यवंशी की 18 वर्षीय बेटी का शव मंगलवार को सुबह उसके कमरे में फांसी पर लटका मिला. इस मामले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और पंचनामा कर शव का पोस्टमार्टम कराया. इसके बाद दोपहर को अंत्येष्टि की गई. Also Read - NEET Result 2020: समान नंबर होने के बावजूद उम्र बन सकती है रैंक पिछले का कारण, जानें NEET पर NTA ने कैसे किया विश्लेषण