NEET Result 2020: कभी-कभी मशीन या इंसान से ऐसी गलती हो जाती है जिसकी भारी कीमत चुकानी पड़ जाती है. ऐसा ही एक मामले में कंप्यूटर एरर या ह्यूमन एरर को मान सकते हैं, जिसने NEET 2020 का रिजल्ट अपलोड किया था. इस रिजल्ट ने एक छात्रा को इतना इंकझोर दिया था कि उन्होंने मौत को ही गले लगा लिया. यह मामला मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले की है. छात्रा ने जब अपने नाम के आगे केवल 6 अंक देखें, जिसके बाद उन्होंने सुसाइड कर लिया.Also Read - NEET PG Counselling: सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला- नीट पीजी दाखिले में OBC और EWS आरक्षण को मिली हरी झंडी

छात्रा के परिवार को नीट के इस रिजल्ट पर भरोसा नहीं था इसलिए उन्होंने OMR शीट ओपन कराई, जिसमें छात्रा को 590 नंबर मिले. बता दें कि विधि सूर्यवंशी डॉक्टर बनकर लोगों की सेवा करना चाहती थी. उन्होंने NEET Exam को क्लियर करने के लिए काफी मेहनत की थी. जब NEET की परीक्षा का रिजल्ट हाल ही में घोषित किया गया था तब उन्हें सिर्फ 6 मार्क्स मिले, जिसकी वजह से वह मानसिक तौर पर पूरी तरह टूट गई थी. Also Read - NEET PG Admission: नीट एडमिशन में EWS रिजर्वेशन मामले की सुनवाई आज, सुप्रीम कोर्ट करेगा फैसला

जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि परासिया की मैग्जीन लाइन निवासी गजेंद्र सूर्यवंशी की 18 वर्षीय बेटी का शव मंगलवार को सुबह उसके कमरे में फांसी पर लटका मिला. इस मामले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और पंचनामा कर शव का पोस्टमार्टम कराया. इसके बाद दोपहर को अंत्येष्टि की गई. Also Read - SC ने पलटा हाईकोर्ट का फैसला- कहां; 'हमें खेद है, लेकिन 2 छात्रों के लिए NEET-UG परीक्षा दोबारा नहीं करवा सकते'