Goa HSSC Result 2020: गोवा बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एंड हायर सेकेंडरी एजुकेशन (GBSHSE) आज यानी शुक्रवार 26 जून को कक्षा 12वीं का रिजल्ट घोषित कर दिया है. कुल 18,150 छात्र जो HSSC परीक्षा में उपस्थित हुए थे, वे अपना रिजल्ट शाम 5 बजे के बाद देख सकेंगे. इस परीक्षा में कुल आर्ट्स स्ट्रीम-4,523 , कॉमर्स- 5,593, साइंस- 5,114 और वोकेशनल- 2,920 छात्र उपस्थित हुए हैं.Also Read - Board Exam 2021: Goa Board GBSHSE 10th Exam 2021: इस राज्य ने कक्षा 10वीं के रिजल्ट के लिए तैयार किया प्लान, जानें क्या है पासिंग क्राइटेरिया

एक बार जारी होने के बाद उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट- gbshse.gov.in के माध्यम से अपना रिजल्ट देख सकते हैं. कोरोना वायरस महामारी के कारण बोर्ड परीक्षा को पहले 20 मार्च को स्थगित कर दिया गया था और राज्य में 1 मई को COVID-19 मुक्त घोषित किए जाने के बाद 20 से 22 मई तक एचएसएससी परीक्षा लंबित थी. Also Read - Board Exam 2021 Latest News: 24 अप्रैल से इस राज्य में शुरू होगी बोर्ड परीक्षा, एग्जाम कैंसिल को लेकर सीएम ने कही ये बात

ऐसे करें Goa HSSC Result 2020 चेक Also Read - Goa Board 9th 11th Exam Updates: इस दिन से शुरू होंगी गोवा बोर्ड की 9th और 11th कक्षा की परीक्षाएं, जानें पूरी डिटेल्स

ऊपर उल्लिखित आधिकारिक वेबसाइट पर लॉग ऑन करें
गोवा एचएसएससी रिजल्ट 2020 के लिंक पर क्लिक करें.
दिए गए फ़ील्ड में अपना रोल नंबर / अन्य आवश्यक विवरण दर्ज करें.
सबमिट पर क्लिक करें.
आपका रिजल्ट स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा.
रिजल्ट डाउनलोड करें और भविष्य के संदर्भ के लिए एक प्रिंटआउट लें.

SMS के जरिए Goa HSSC Result 2020 करें चेक

छात्र अपने स्कोर को एक एसएमएस के माध्यम से भी देख सकते हैं. इस माध्यम से चेक करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें.

GOA12 <space> SEAT NUMBER – इसे 56263 पर भेजें
GOA12 <space> SEAT NUMBER – इसे 58888 पर भेजें
GOA12 <space> SEAT NUMBER – इसे 5676750 पर भेजें
GB12 <space> SEAT NUMBER – इसे 54242 पर भेजें

इस बीच कुल 19,680 छात्र जो एसएससी या कक्षा 10वीं की परीक्षा में उपस्थित हुए थे, उन्हें अगले महीने रिजल्ट मिलेंगे क्योंकि मूल्यांकन प्रक्रिया अभी पूरी नहीं हुई है. पिछले साल कुल 89.59 प्रतिशत छात्रों ने कक्षा 12वीं की परीक्षा सफलतापूर्वक उत्तीर्ण की. लड़कियों ने लड़कों से बेहतर प्रदर्शन किया है, लड़कियों का पास प्रतिशत 91.97 प्रतिशत है, जबकि लड़कों का प्रतिशत 86.91 रहा है.