अहमदाबाद: मवेशियों के लिए हरी घास बेचने वाले एक व्यक्ति की बेटी ने सीमित साधनों और तमाम समस्याओं को पार करते हुए 12 वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा में 98.86 प्रतिशतक (पर्सेंटाइल) अंक हासिल किया है. बोर्ड परीक्षा के परिणाम रविवार को घोषित किए गए थे. Also Read - Gujarat Board 12th Science Result 2020: गुजरात बोर्ड ने जारी किया 12वीं साइंस एग्जाम का रिजल्ट, यहां जानें डिटेल

अहमदाबाद की राष्ट्र भारती हिंदी शाला की छात्रा नेहा यादव ने अपने बड़े परिवार के साथ दो कमरों वाले किराये के घर में अध्ययन करने के बावजूद गुजरात माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 12वीं कक्षा की परीक्षा में 98.86 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं. Also Read - Gujarat board: GSHSEB ने 10वीं और 12वीं के लिए 80% उपस्थिति किया अनिवार्य

नेहा ने कहा, ‘‘मैंने बोर्ड परीक्षा की तैयारी बहुत पहले ही शुरू कर दी थी. मैं अब मेडिकल कॉलेज में प्रवेश के लिए गुजसेट (गुजरात सामान्य प्रवेश परीक्षा) की तैयारी शुरू कर दूंगी. मेरे पिता चाहते हैं कि मैं डॉक्टर बनूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरे स्कूल के शिक्षकों ने मुझे विज्ञान लेने के लिए प्रोत्साहित किया. मैंने 12 वीं कक्षा में विज्ञान लिया और जीव विज्ञान को प्रमुख विषय के रूप में लिया.’’ Also Read - GSEB Class 12 Science Exam Result 2018: 73% छात्र हुए पास, लड़कियों ने बाजी मारी

बता दें कि इस साल कुल 71.34% छात्रों ने GSEB 12 वीं विज्ञान की परीक्षा पास किए हैं. पिछले साल 71.90 प्रतिशत छात्रों ने इस परीक्षा को  पास किए थे. कुल 1,16,643 पंजीकृत छात्रों में से 1,16,494 छात्र परीक्षा के लिए उपस्थित हुए थे. इस साल 71.69 प्रतिशत छात्रों ने परीक्षा दी थी, जिनमें से 70.85 प्रतिशत लड़कियों ने परीक्षा में सफलता हासिल की हैं. वहीं कुल 36 स्कूलों में 100% रिजल्ट रहा है जबकि 68 स्कूलों में 10% से कम रिजल्ट रहा है.