Gujarat Technical University: गुजरात टेक्निकल यूनिवर्सिटी (GTU) की परीक्षा सुधार समिति ने 305 छात्रों को दंडित करने की बात कही है. इन छात्रों ने इस साल मई-जून में आयोजित सेमेस्टर परीक्षा में नकल की थी. उन्हें नकल करते हुए पकड़ा गया था. उन्हें उनका रिजल्ट रद्द किए जाने से लेकर दो साल तक के लिए संस्थान से निष्कासित करने की सजा दी गई है. समिति के पास ऐसे 324 मामले पहुंचे थे जिसमें से उनसे 305 को सही पाया और उन्हें दंडित करने का फैसला किया.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 19 छात्रों के खिलाफ समिति को पर्याप्त सबूत नहीं मिले, इसलिए उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई. नकल के दोषी पाए गए 305 छात्रों में से 45 को मौजूदा सेमेस्टर परीक्षा में एक विषय में फेल घोषित किया गया है, जबकि 119 छात्रों के सभी विषयों के रिजल्ट रद्द कर दिए गए हैं. इसके अलावे 139 अन्य छात्रों को मौजूदा सेमेस्टर की परीक्षा में फेल घोषित किए जाने के साथ एक सेमेस्टर के लिए निष्कासित कर दिया गया है. दो अन्य छात्रों को बड़े पैमाने पर नकल के दोषी पाए जाने की वजह से 2 साल के लिए निष्कासित कर दिया गया है.

GTU ने इस साल 2 मई से 18 जून के बीच सेमेस्टर परीक्षा करवाई थी, जिसमें 4.5 लाख बच्चों ने हिस्सा लिया था. इसके लिए प्रैक्टिकल परीक्षा 8 अप्रैल से 20 जून के बीच करवाई गई थी.