UGC-Net Exam 2018: दिल्ली के अल्पसंख्य आयोग (DMC) ने यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन के खिलाफ नोटिस जारी कर धार्मिक अल्पसंख्यकों के खिलाफ भेदभाव करने और उन्हें राष्ट्रीय मुख्यधारा से दूर रखने का आरोप लगाया है. दरअसर, हिजाब पहनने के कारण जामिया की छात्रा उमैया को UGC NET परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं दी गई थी. इस पर DMC ने अपने नोटिस में केरल हाईकोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए कहा है कि कोर्ट ने यह स्पष्ट किया था कि हिजाब पहनने वाली महिलाएं भी परीक्षा या टेस्ट में बैठ सकती हैं.

1.25 लाख छात्रों को मोदी सरकार का तोहफा, पढ़ाई के दौरान हर माह मिलेंगे 40,000 रुपये

DMC यूजीसी के सचिव से इस पर जवाब मांगा है और कहा है कि क्या भेदभाव की अनुमति है. हिजाब के कारण NETJRF परीक्षा में बैठने से रोकने का अन्याय जो मुस्लिम महिलाओं के साथ किया गया है, उसे आप कैसे ठीक करेंगे.

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, दरअसल छात्रा को बगैर हिजाब के परीक्षा में बैठने को नहीं कहा गया था, बल्कि, जांच के दौरान उससे सिर्फ हिजाब उतार कर चेहरा दिखाने को कहा गया था.

DMC ने अपने नोटिस में UGC से पूछा है कि वह अपनी गलती को कैसे सुधारेगा.

करियर संबंधी खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com