नई दिल्‍ली: कोरोना वायरस के चलते देशभर में मार्च के मध्‍य से बंदल शैक्षणिक स्‍थान अगस्‍त के बाद से शुरू किए जाएंगे. यह बात केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कही है. Also Read - कोरोना संकट के बीच भारत में कब से खुलेंगे स्कूल? इस दिन से शुरू हो सकती हैं सीनियर क्लासेस

केंद्रीय एचआरडी मंत्री ने बीते 3 जून को एक इंटरव्‍यू में कहा था कि स्‍कूल और कॉलेज जो 16 मार्च से बंद थे, उन्‍हें 15 अगस्‍त 2020 में खोल दिया जाएगा. बता दें कि मई के अंत में आई खबरों को लेकर यह माना जा रहा था कि जुलाई में स्‍कूल और कॉलेज 33 फीसदी की उपस्थिति के आधार पर खोले जाएंगे. Also Read - अभिषेक बच्चन को कब मिलेगी अस्पताल से छुट्टी? केयर बोर्ड ने फोटो शेयर कर बताया

हफ्तों के भ्रम के बाद मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश निशंक पोखरियाल ने इस इंटरव्‍यू में कहा कि संभवतः 15 अगस्त 2020 के बाद स्कूलों और कॉलेजों को खोला जाएगा. Also Read - इस बात से बहुत परेशान हैं उर्वशी रौतेला, आखिर 2020 में हो क्या रहा है?

मानव संसाधन विकास मंत्री ने कहा कि इस सत्र से 15 अगस्त तक सभी परीक्षाओं के परिणाम घोषित करने की कोशिश कर रहे हैं. मंत्री ने कहा CBSE बोर्ड परीक्षा 1 जुलाई से 15 जुलाई तक आयोजित की जाएगी, ICSE / ISC परीक्षा 1 जुलाई से शुरू होकर 12 जुलाई तक चलेगी.

बता दें की बीते 5 जून को एचआरडी सचिव ने कहा था कि कोरोना वायरस संकट के कारण देश में 24 करोड़ से अधिक बच्चे प्रभावित होंगे और लॉकडाउन हटने के बाद शिक्षकों एवं छात्रों को बदली परिस्थितियों के अनुरूप स्वयं को ढालना होगा.

मानव संसाधन विकास (एचआरडी) स्कूल शिक्षा सचिव अनिता करवाल ने बीते शुक्रवार को कहा था कि कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन हटने के बाद जब स्कूल दोबारा खुलेंगे, तो कक्षाओं में पढ़ने-पढ़ाने के अब तक अपनाए जा रहे तरीके में बदलाव आएगा.

स्कूल शिक्षा सचिव ने स्कूलों को पुन: खोले जाने की योजना के बारे में बताते हुए कहा, हम अब पठन-पाठन की पूरी प्रक्रिया, छात्रों को स्कूल बुलाए जाने की प्रक्रिया में बदलाव की कोशिश कर रहे हैं. स्कूलों के प्रवेश एवं निकास द्वारों पर क्या होगा, शिक्षकों की बदली भूमिका क्या होगी. हम इन सब पर काम कर रहे हैं. देश भर में 16 मार्च से विश्वविद्यालय एवं स्कूल बंद हैं.