Syllabus cut for school students: मानव संसाधन विकास मंत्रालय कक्षा एक से लेकर 12वीं तक सभी छात्रों के लिए हिंदी में ऑडियो विजुअल शैक्षणिक कार्यक्रम उपलब्ध करवाएगा. इन कार्यक्रमों का सीधा टेलीकास्ट टेलीविजन पर किया जाएगा. मंत्रालय इसके लिए एक एमओयू साइन करने जा रहा है. इसके साथ ही मानव संसाधन विकास मंत्रालय इस वर्ष स्कूली छात्रों के सिलेबस में कटौती करने पर भी गंभीरता से विचार कर रहा है. Also Read - वैज्ञानिकों ने खोजा कोरोना से जुड़ी गंभीर बीमारियों से बच्चों को बचाने का रहस्य, जानिए क्या है इनका दावा  

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, “मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हम रोटरी के साथ एक एमओयू साइन करने जा रहे हैं. इसके माध्यम से कक्षा एक से बारहवीं तक के सभी छात्रों को टीवी एवं अन्य ऑनलाइन माध्यमों पर हिंदी भाषा में शैक्षणिक कार्यक्रम उपलब्ध कराया जाएगा. यह टेलीकास्ट विद्यादान, दीक्षा, स्वयंप्रभा आदि चैनल्स पर उपलब्ध होगा.” गौरतलब है कि 1 से 15 जुलाई के बीच 10वीं एवं 12वीं की शेष रह गई बोर्ड परीक्षाएं होनी हैं, इस विषय पर केंद्रीय मंत्री निशंक ने कहा, “परीक्षाओं में गृह मंत्रालय एवं स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी निदेशरें का पालन सुनिश्चित कराया जाएगा.” Also Read - रमेश पोखरियाल ने कहा- CBSE के सिलेबस से कुछ टॉपिक्स हटाए जाने को लेकर की जा रही है मनगढंत टिप्पणियां 

वहीं कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न हुए मौजूदा हालात को देखते हुए मानव संसाधन विकास मंत्रालय से लगातार सिलेबस में कटौती करने की मांग की जा रही है. इस पर केंद्रीय मंत्री निशंक ने कहा, “मौजूदा हालातों को देखते हुए साथ ही शिक्षकों एवं अभिभावकों की ओर से की गई अपील को ध्यान में रखकर हम स्कूली सिलेबस में कटौती करने पर विचार कर रहे हैं.” Also Read - कोरोना महामारी के बीच फिल्म निर्माता बना रहे हैं ये प्लान, तापसी पन्नू की आगामी फिल्म से हो सकती है शुरुआत