नई दिल्ली: मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने 6 शैक्षणिक संस्थानों को ‘Institution of Eminence’ यानी उत्कृष्ठ संस्थान का दर्जा दिया है. इन संस्थानों में 3 सरकारी और 3 निजी संस्थान शामिल हैं. मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को इन संस्थानों के नाम की घोषणा करते हुए कहा कि इन संस्थानों को आने वाले 5 वर्षों में 1000 करोड़ रुपये सरकारी अनुदान दिया जाएगा.Also Read - CPI नेता कन्‍हैया कुमार और गुजरात के विधायक जिग्‍नेश मेवाणी 28 सितंबर को कांग्रेस में होंगे शामिल

Also Read - दिल्ली यूनिवर्सिटी के कुलपति बने योगेश सिंह, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी

‘Institution of Eminence’ में कौन से संस्थान Also Read - DUET Admit Card 2021 Released: जारी हुआ DUET 2021 का एडमिट कार्ड, ये रहा डाउनलोड करने का Direct Link 

मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा जारी सूची में तीन सरकारी संस्थान IIT दिल्ली, IIT बॉम्बे और IISc बेंगलुरु को उत्कृष्ठ संस्थान का दर्जा दिया गया है. वहीं तीन निजी संस्थानों मनीपाल एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन, BITS पिलानी और Jio इंस्टीट्यूट को उत्कृष्ठ संस्थान का टैग मिला है.

HRD मंत्री प्रकाश जावेड़ेकर ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए लिखा है कि इन संस्थानों को अगले 5 वर्षों में 1000 करोड़ रुपये सरकारी अनुदान के रूप में दिए जाएंगे.

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि इससे इन संस्थानों की गुणवत्ता को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी. नये कोर्सेज को भी जोड़ा जा सकेगा. उन्होंने कहा कि उत्कृष्ठता का टैग मिलने के बाद इन संस्थानों के विश्व स्तरीय संस्थान बनाने की दिशा में जो कुछ भी जरूरी होगा, किया जा सकेगा.

उन्होंने कहा कि देश में 800 यूनिवर्सिटीज हैं, लेकिन इनमें से एक भी टॉप 100 या 200 में जगह नहीं बना पाती हैं. इस निर्णय के बाद विश्व स्तरीय रैंकिंग को हासिल करना आसान होगा.