नई दिल्ली: इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) ने एमए हिंदी कार्यक्रम को अब ऑनलाइन कर दिया है. इग्नू ऐसा करने वाला पहला विश्वविद्यालय है. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इग्नू के एमए हिंदी ऑनलाइन कार्यक्रम की शुरुआत की. Also Read - नेशनल टेस्ट 'अभ्यास' एप का छात्रों के बीच बढ़ा क्रेज, 72 घंटे में 2 लाख लोगों ने किया डाउनलोड, जानें क्या है इसकी खासियत

इस अवसर पर मंत्री निशंक ने कहा, इग्नू द्वारा शुरू किया गया ऑनलाइन एमए हिंदी का पाठ्यक्रम बहुत सारे छात्रों को लाभान्वित करेगा. इस पाठ्यक्रम को ऑनलाइन पढ़ाने की शुरुआत के साथ ही इग्नू विश्व का पहला विश्वविद्यालय बन गया है जो एमए हिंदी का पूरा पाठ्यक्रम ऑनलाइन भी पढ़ाएगा. इस अनूठी उपलब्धि के लिए मैं इग्नू के कुलपति नागेश्वर राव को बधाई देता हूं और उम्मीद करता हूं कि इग्नू की इस पहल से अन्य विश्वविद्यालय भी आगे आएंगे और जल्द से जल्द ऑनलाइन शिक्षा से जुड़ेंगे. Also Read - JEE Mains 2020: NTA ने एक बार फिर आवेदन करने की बढ़ाई डेट, इस तारीख तक करें आवेदन, जानें डिटेल 

केंद्रीय मंत्री ने सभी विश्वविद्यालयों को आश्वासन देते हुए कहा कि मंत्रालय की तरफ से उनको ऑनलाइन शिक्षा से संबंधित हर संभव मदद दी जाएगी. इसके अलावा निशंक ने दर्शनशास्त्र में एमए, गांधी और शांति अध्ययन में एमए, पर्यटन अध्ययन में स्नातक उपाधि, पुस्तकालय विज्ञान और कंप्यूटर विज्ञान के सर्टिफिकेट आदि कार्यक्रमों का भी शुभारंभ किया. Also Read - CBSE 10th 12th Board Exam 2020: सीबीएसई आज नहीं, अब इस दिन जारी करेगा डेटशीट, जानिए यहां पूरी डिटेल

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक पैकेज की आखरी किश्त की घोषणा करते समय ऑनलाइन शिक्षा पर जोर देते हुए कहा था कि देश के अग्रणी विश्वविद्यालयों को ऑनलाइन पाठ्यक्रमों की शुरुआत करनी चाहिए. उस घोषणा के बाद इग्नू पहला ऐसा विश्वविद्यालय है जिसने एमए हिंदी का पाठ्यक्रम ऑनलाइन पढ़ाने का फैसला किया है.