संबलपुर (ओडिशा): भारतीय प्रबंधन संस्थान, संबलपुर (आईआईएम-एस) ने कोरोना वायरस प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के मद्देनजर ऑनलाइन प्रॉक्टरिंग प्रणाली का उपयोग करते हुए एमबीए के प्रथम वर्ष के छात्रों की अंतिम सावधिक परीक्षाएं आयोजित करने का निर्णय लिया है. Also Read - कोरोना के बाद इस तकनीकी शिक्षा पर होगा जोर, अध्ययन में आई ये बात सामने  

संस्थान के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आईआईएम-एस ऑनलाइन प्रॉक्टरिंग प्रणाली का उपयोग करके परीक्षा आयोजित करने वाला देश का पहला आईआईएम होगा. आईआईएम-एस के निदेशक, महादेव जायसवाल ने कहा कि पहले वर्ष के छात्रों की अंतिम सावधिक परीक्षाएं मार्च के चौथे सप्ताह में आयोजित की जानी थीं, लेकिन छात्रों को उस समय लॉकडाउन के कारण छात्रावास खाली करना पड़ा. Also Read - राजस्‍थान में 2 घंटे पहले व्हाट्सएप पर पेपर लीक, लाइब्रेरियन के 700 पदों के लिए भर्ती परीक्षा निरस्‍त

जायसवाल ने कहा, ‘‘परिणामस्वरूप, परीक्षा आयोजित नहीं की जा सकी. इसके अलावा, हम इसको लेकर आश्वस्त भी नहीं है कि लॉकडाउन कब समाप्त होगा और कब सामान्य स्थिति बहाल होगी. और इन परिस्थितियों में, हमने जून में ऑनलाइन प्रॉक्टरिंग सिस्टम का इस्तेमाल करके प्रथम वर्ष के छात्रों की अंतिम सावधिक परीक्षा आयोजित करने का निर्णय लिया है.’’ Also Read - Good News: Railway to employee over 1 lakh people | खुशखबरीः रेलवे में जल्द होगी 1 लाख पदों के लिए भर्ती

उन्होंने कहा कि इस प्रणाली के साथ, देश के विभिन्न हिस्सों में छात्र अपने घरों में अपने लैपटॉप/डेस्कटॉप के माध्यम से ऑनलाइन परीक्षा में शामिल हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि लगभग100 छात्र अंतिम सावधिक परीक्षा के लिए उपस्थित होंगे. ऑनलाइन परीक्षा आयोजित करने की इस प्रणाली की प्रक्रिया में अधिक पारदर्शिता है.