पटना: गरीब छात्रों को आईआईटी की कोचिंग कराने वाली संस्था सुपर 30 के 18 छात्र इस वर्ष भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) की संयुक्त प्रवेश परीक्षा (एडवांस) में सफल हुए हैं. संस्था की तरफ से जारी बयान में बताया गया है कि इस साल 30 छात्रों में से 18 छात्र आईआईटी की संयुक्त प्रवेश परीक्षा में सफलता हुए हैं. परिणाम जारी होने के बाद संस्था के संस्थापक आनंद कुमार ने कहा, “2002 से प्रारंभ सुपर 30 से अब तक 450 से ज्यादा छात्र आईआईटी की प्रवेश परीक्षा पास कर देश-विदेश में ऊंचे पदों पर पदस्थापित हैं.”

इस वर्ष सफलता में गिरावट आने के संबंध में उन्होंने कहा कि संख्या उनके लिए मायने नहीं रखती. उन्होंने कहा कि वह अपने जुनून के साथ आगे बढ़ रहे हैं, और सभी छात्र भले ही आईआईटी नहीं पहुंचे पाए, परंतु उन्हें एनआईटी मिलना तय है. उल्लेखनीय है कि साल 2008, 2009, 2010 और 2017 में सुपर 30 के सभी 30 छात्र आईआईटी की प्रवेश परीक्षा में सफलता हुए थे.

इस साल सफलता पाने वाले छात्रों में भी दैनिक मजदूर, सीमांत किसान और प्रवासी मजदूरों के बच्चे शामिल हैं. उल्लेखनीय है कि संस्थान गरीब परिवारों के बच्चों का चयन करता है और उन्हें मुफ्त कोचिग, भोजन और रहने की सुविधा देता है, ताकि वे अपना ध्यान केवल आईआईटी-जेईई में सफल होने पर केंद्रित करें.