नई दिल्लीः जेईई एडवांस में कुल सीटों की तुलना में बेहद कम क्वालिफाइड छात्रों की संख्या के चलते गुरुवार को मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने IIT ज्वाइंट एडमिशन बोर्ड को एक सप्लिमेंट्री JEE Advanced 2018 मेरिट लिस्ट जारी करने को कहा है. ताकि सभी श्रेणियों की सीटें भरी जा सकें.

मंत्रालय द्वारा जारी नोटिफिकेशन में यह कहा गया है कि सरकार की पॉलिसी के अनुसार IITs में आरक्षित श्रेणी के लिए सुरक्षित सीटों को खाली नहीं छोड़ा जा सकता. इसलिए यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि सभी विभागों और श्रेणियों में मौजूद सीटों को नियमों के अनुसार भरा जा सके. बात दें कि JEE रिजल्ट रविवार को जारी कर दिया गया था, लेकिन अब नये नियमों के लागू होने के बाद हजारों छात्रों को लाभ मिलेगा.

यह पहली बार हो रहा है जब मानव संसाधन मंत्रालय ने 2018 एडमिशन के लिए इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IITs) को सप्लीमेंटरी मेरिट लिस्ट जारी करने को कहा है. JEE Advanced 2018 को आयोजित करने वाला IIT कानपुर को नई मेरिट लिस्ट जारी करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है. मंत्रालय ने आईआईटी कानपुर को सभी श्रेणियों में सीटों की संख्या से दो गुना मेरिट लिस्ट जारी करने को कहा है. लिहाजा आईआईटी कानपुर को च्वॉइस फिलिंग से पहले नई सप्लिमेंटरी सूची जारी करनी होगी.

परीक्षा क्वालिफाई करने वाले छात्रों की संख्या हर साल सीटों की संख्या से दो गुना होती है. लेकिन इस बार 18,138 छात्रों ने क्वालिफाई किया है. यानी मौजूद कुल सीटों की संख्या के सिर्फ 1.6 गुना ही छात्रों ने क्वालिफाई है. साल 2012 के बाद इस साल सबसे कम छात्रों ने क्वालिफाई किया है.