न्यूज डेस्क: ज्वाइंट एंट्रेस एग्जामिनेशन (JEE) एडवांस्ड का रिजल्ट रविवार को आज सुबह 10 बजे से घोषित हो गया है. आईआईटी रुड़की से प्रणव गोयल ने ऑल इंडिया रैंक नंबर 1 की टॉपर पोजिशन पर हैं. लड़कियों के मीनाल पारख, जिन्होंने ऑल इंडिया रैंकिंग में 6वां स्थान हासिल किया है. इस परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट पर jeeadv.ac.in. पर इसे देख सकते हैं. जिन छात्रों ने अपने मोबाइल नंबर रजिस्टर कर चुके हैं, उन्हें एसएमएस के जरिए रिजल्ट मिल रहा है. कैंडिडेट्स को व्यक्तिगत रैंक कार्ड नहीं भेजे जाएंगे. आईआईटी कानपुर ने इस साल की JEE एडवास्ड की परीक्षा कराई थी.

ये टॉपर और उनकी एआईआर रैंक
– आईआईटी रुड़की से प्रणव गोयल   एआईआर रैंक-1
-कोटा क्षेत्र के साहिल जैन                एआईआर रैंक-2
– दिल्ली क्षेत्र के कैलाश गुप्ता           एआईआर रैंक- 3

टॉपर प्रणव बोले-टॉप करने का हमेशा लक्ष्य रहा
जेईई एडवांस्ड टॉपर प्रणव गोयल हरियाणा के पंचकूला के रहने वाले हैं. प्रणव ने कहा, ” मैं अत्याधिक खुश हूं और अब मैं महसूस करता हूं कि जीवन का लक्ष्य हासिल हो गया है. मैं प्रतिभागियों को सलाह दूंगा कि अपने काम पर ध्यान दें. मेरा हमेशा इस परीक्षा को टॉप करने का लक्ष्य रहा है.

इस साल कुल 11,279 सीटें हैं, जिसके लिए 18, 138 ने इस बार जेईई एडवांस्ड क्वालीफाई किया है, जो कुल सीटों की संख्या 1.6 गुना है.

रिजल्ट देखने के लिए यहां क्लिक कीजिए– ज्वाइंट एंट्रेस एग्जामिनेशन (JEE) एडवांस्ड 2018 रिजल्ट

ऐसे जानें रिजल्ट-
1स्टेप- रजिस्ट्रेशन नंबर लिखे
2 स्टेप – जन्मतिथि- माह-वर्ष लिखें
3-स्टेप- मोबाइल नंबर लिखें
4-स्टेप- ईमेल लिखें

JEE-ADVANCE-RESULT2018.jpg-
वेबासाइट पर क्वेशच्न पेपर्स की फाइनल अन्सर कीज उपलब्ध है.
वेबसाइट पर JEE एडवांसद 2018 के पेपर 1 और पेपर2 भी अंग्रेजी और हिंदी में उपलब्ध हैं.

 

एएटी का आयोजन 
-14 जून, 2018 को एएटी का आयोजन 09:00 बजे से 12:00 बजे होगा
-इन परीक्षा केंद्रों में एएटी आयोजित की जाएगी
1- आईआईटी बॉम्बे
2- आईआईटी दिल्ली
3- आईआईटी गुवाहाटी
4- आईआईटी कानपुर
5- आईआईटी खड़गपुर
6- आईआईटी मद्रास
7- आईआईटी रुड़की

– 20 मई हुई जेईई एडवांस्ड परीक्षा
– लगभग 2.2 लाख छात्र शामिल हुए थे इस परीक्षा में
– 15 जून से शुरू होगा सीटों का आवंटन
– पहली बार, जेईई एडवांस्ड ऑनलाइन मोड में पूरी तरह से आयोजित किया गया था
– चयनित प्रतियोगी ग्रैजुएट में प्रवेश प्राप्त करेंगे
– इंजीनियरिंग, विज्ञान या वास्तुकला में स्नातक, एकीकृत मास्टर या स्नातक-मास्टर दोहरी डिग्री प्राप्त कर सकेंगे
– जेईई (एडवान्स) के लिए कैंडिडेट्स अधिकतम लगातार दो बार का प्रयास कर सकते हैं