कानपुर: वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी)-कानपुर लगातार आगे आकर प्रयास कर रहा है. आईआईटी और बिजनेस इनक्यूबेटर ई-स्पिन नैनोटेक की मदद से एन 95 और एन 99 के 25 हजार मास्क एक दिन में तैयार होंगे. आईआईटी-कानपुर के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने बताया कि आईआईटी-कानपुर की इंक्यूबेटेड कंपनी ई-स्पिन नैनोटेक ने एक नई मशीन लगाई हैं, जिसकी मदद से एन 95 और 99 मास्क बड़ी मात्रा में बनाए जा सकते हैं. Also Read - CAA के खिलाफ छात्रों ने फैज की गजल गाई थी, आईआईटी कानपुर ने समिति गठित की

यह मशीन हर दिन 25000 हजार मास्क बना सकती है. यह कोरोना की लड़ाई में बहुत बड़ा सहयोग करेगी. उन्होंने बताया कि कोरोनाकाल में फेस मास्क आम जनता के साथ-साथ स्वास्थ्यकर्मियों के लिए बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए एक आवश्यक सुरक्षात्मक उपकरण हैं. यह किसी भी आईआईटी शैक्षणिक संस्थान के टेक्नोलॉजी बिजनेस इनक्यूबेटर द्वारा की गई अपनी तरह की पहली पहल है. ई-स्पिन नैनोटेक के निदेशक ने बताया, “संक्रमण से बचाव के लिए मास्क बहुत जरूरी है. बाजार में कई उत्पादों की बाढ़ आ रही है, इसलिए हमने आमजन मानस के स्वास्थ्य हा ध्यान रखते हुए आईआईटी- कानपुर के सहयोग से मास्क बनाने शुरू किए हैं.” Also Read - पिछले 5 सालों में 7,248 छात्रों ने छोड़ी आईआईटी की पढ़ाई, वजह कर देगी हैरान

उन्होंने कहा, “हमारी कंपनी आईआईटी के सहयोग से एन 95 और एन 99 दोनों तरह के मास्क का निर्माण करेगी. अभी इसका उत्पादन 25,000 मास्क प्रतिदिन है. हमारे द्वारा बनाए मास्क लोगों को बहुत ही सस्ती कीमत में मिलेंगे. ये मास्क कंपनी की वेबसाइट के अलावा कई प्रमुख ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध होंगे.” Also Read - पिछले पांच साल में 27 आईआईटी विद्यार्थियों ने की खुदकुशी, IIT मद्रास के सबसे ज्यादा छात्र