ISRO Young Scientist Programme YUVIKA 2020: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम 2020 के लिए पंजीकरण की अंतिम तिथि को 10 दिनों के लिए बढ़ा दिया है. ट्विटर के जरिए इसरो ने पंजीकरण की तारीख के विस्तार के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि यह अधिक भागीदारी के लिए किया जा रहा था. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम 2020 के लिए आवेदन प्रक्रिया 3 फरवरी 2020 से शुरू हुई थी और छात्रों को 24 फरवरी शाम 6 बजे तक आवेदन करने के लिए कहा गया था. Also Read - Sarkari Naukri 2020: ISRO Recruitment 2020: ISRO में ड्राफ्ट्समैन से लेकर साइंटिस्ट तक के पदों में निकली वैकेंसी, इस प्रोसेस से करें आवेदन

पंजीकरण की तारीख के विस्तार के बारे में ट्वीट में इसरो ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को Yuva Vigyani Karyakram (युविका) कार्यक्रम के बारे में उनके उत्साहजनक शब्दों के लिए धन्यवाद दिया. पीएम मोदी ने पिछले रविवार को मन की बात में ISRO YUVIKA 2020 की सराहना की थी. युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम का उद्देश्य अंतरिक्ष गतिविधियों के उभरते क्षेत्रों में अपनी रुचि जगाने के इरादे से युवाओं को अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष विज्ञान और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों के बारे में बुनियादी ज्ञान प्रदान करना है. गर्मी की छुट्टियों के दौरान यह कार्यक्रम दो सप्ताह यानी 11 से 22 मई 2020 तक की अवधि के लिए होगा. Also Read - ISRO में विभिन्न पदों पर निकली वैकेंसी, इन बातों को ध्यान में रखकर करें आवेदन

इसरो कार्यक्रम के लिए प्रत्येक राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों से तीन छात्रों का चयन करेगा, जिन्हें बाद में इसरो के वैज्ञानिकों द्वारा व्याख्यान मिलेगा और अंतरिक्ष एजेंसी की प्रयोगशालाओं तक पहुंचने का मौका मिलेगा. जिन छात्रों ने अपने 8 वीं कक्षा पूरी कर ली है और वर्तमान में 9 वीं कक्षा में पढ़ाई कर रहे हैं, वे कार्यक्रम के लिए आवेदन कर सकते हैं. छात्रों को CBSE, ICSE या किसी अन्य राज्य बोर्ड से होना चाहिए जिसे भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है. चयन 8 वीं मानक शैक्षणिक परफॉरमेंस और पाठ्यक्रम पर आधारित गतिविधियों द्वारा की जाएगी. Also Read - मछुआरे अब अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा नहीं कर सकेंगे पार, इसरो का खास ‘उपकरण’ करेगा देखभाल