JAC 10th Result 2020: झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जेएसी) आज बुधवार यानी 8 जुलाई को कक्षा 10वीं का रिजल्ट जारी करेगा. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जेएसी के अध्यक्ष अरविंद प्रसाद सिंह ने बताया कि कक्षा 10वीं का रिजल्ट दोपहर 1 बजे घोषित किए जाएंगे. छात्र जो इस परीक्षा में शामिल हुए हैं,वे अपना रिजल्ट बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट jac.jharkhand.gov.in पर जाकर देख सकते हैं.Also Read - Maharashtra MSBSHSE HSC Result 2021: कुछ ही देर में जारी होगा महाराष्ट्र बोर्ड 12वीं का रिजल्ट, आसानी से ऐसे करें चेक

इस वर्ष जेएसी द्वारा आयोजित मैट्रिक (कक्षा -10) परीक्षा में 3.87 लाख से अधिक छात्रों ने परीक्षा दी है. फरवरी में परीक्षाएं आयोजित की गई थीं. परीक्षाएं 10 फरवरी से शुरू हुईं और 28 फरवरी को संपन्न हुईं थी. जेएसी अधिकारियों ने कहा कि 3,87,021 छात्रों ने परीक्षा देने के लिए दाखिला लिया था. मैट्रिक की परीक्षा गृह विज्ञान के पेपर से शुरू हुई और 28 फरवरी को संस्कृत के पेपर के साथ संपन्न हुई थी. राज्य भर में कुल मिलाकर 940 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे जहाँ छात्रों ने सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में प्रश्नपत्र लिखे थे. Also Read - Maharashtra MSBSHSE HSC Result 2021: महाराष्ट्र बोर्ड 12वीं का रिजल्ट देखने में हो कोई टेक्निकल समस्या, तो ऐसे करें आसानी से चेक

इन वेबसाइटों की मदद से करें JAC 10th Result 2020 चेक Also Read - JAC Jharkhand Board 12th Result 2021 Declared: हैवी ट्रैफिक के कारण JAC 12वीं रिजल्ट देखने में है दिक्कत, तो ऐसे करें चेक

jac.nic.in
jacresults.com
jac.jharkhand.gov.in
jharresults.nic.in.

JAC मई के मध्य तक समय पर रिजल्ट जारी करने के लिए समय पर परीक्षाएं लीं. इसे समय पर पूरा करने के लिए उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के लिए 20 मार्च निर्धारित किया गया था. लेकिन, कोरोना वायरस बीमारी के प्रकोप ने इसकी योजना पर पानी फेर दिया था. फिर, इसने 1 अप्रैल से मूल्यांकन की तारीख तय की, लेकिन 24 मार्च से शुरू हुए कोरोना वायरस के कारण पूरे देश में लॉकडाउन की वजह से अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया गया था. अंत में मूल्यांकन 28 मई से शुरू हुआ और 25 जून को इसका समापन हुआ.

साल 2019 में कुल मिलाकर 4.38 लाख छात्र 10 वीं बोर्ड परीक्षा के लिए उपस्थित हुए थे और 70.77% छात्रों ने परीक्षा उत्तीर्ण की थी. लड़कों का पास प्रतिशत 72.99 था, जबकि लड़कियों का पास प्रतिशत 68.67% था.