रविवार 20 मई को JEE Advanced 2018 की परीक्षा आयोजित की गई. परीक्षा में 1,57,496 छात्र पहले पेपर और 1,55,091 छात्र सेकेंड पेपर में शामिल हुए. JEE (Advanced) परीक्षा में इस साल 36 छात्र विदेशी थे. जबकि पिछले साल विदेशी छात्रों की संख्या 109 थी. देश के 573 सेंटर्स पर आयोजित JEE (Advanced) परीक्षा में 17,000 छात्रों ने हिस्सा नहीं लिया. JEE (Advanced) के ऑर्गेनाइजिंग चेयरमैन प्रोफेसर शलभ ने कहा कि 7,326 उम्मीदवारों ने पहला पेपर अटेंड नहीं किया, जबकि 9,731 छात्रों ने सेकेंड पेपर में शामिल नहीं हुए. कुल मिलाकर 17,057 छात्रों ने परीक्षा में हिस्सा नहीं लिया. JEE (Advanced) के लिए कुल 1,64,822 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था. Also Read - JEE Advanced Result 2020: IIT Delhi आज जारी करेगा कटऑफ, जानें कहां और कैसे देखें रिजल्ट

Also Read - जल्द जारी होगा JEE मेन्स का रिजल्ट, एडवांस परीक्षा में बैठेंगे ढाई लाख छात्र, जानें कब होगी परीक्षा

#HaryanaBoard Class 10th Results 2018 Live Updates: 3 लाख से ज्यादा छात्रों को रिजल्ट का इंतजार Also Read - JEE Advanced 2018: पहली बार जारी हुई JEE एडवांस की रिवाइज मेरिट लिस्ट, पास हुए 31,980 उम्मीदवार

परीक्षा में शामिल होने वाले ज्यादातर छात्र गणित के प्रश्नपत्र से नाराज दिखे. उनके अनुसार गणित का प्रश्नपत्र काफी मुश्किल और लेंदी था. वहीं बहुत से छात्रों का कहना था कि परीक्षा में निगेटिव मार्किंग होने के कारण उन्होंने बहुत से सवाल को अटेम्प ही नहीं किया. छात्रों का कहना था कि प्रश्न पत्र इतना घुमाउदार था कि उसे समझने में काफी वक्त लग रहा था.

इस बार JEE (Advanced) परीक्षा में उम्मीदवारों को चप्पल और साधारण कपड़े में आने के लिए कहा गया था. ज्यादातर छात्रों ने नियमों का पालन किया. हालांकि कुछ छात्रों ने आभूषण पहन रखा था, जिन्हें परीक्षा केंद्र पर उतार देने का निर्देश दिया गया.