JEE Advanced Exam 2020: करीब 1.60 लाख (1,60,831) से अधिक उम्मीदवार कल यानी 27 सितंबर को संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE Advanced 2020) की परीक्षा में शामिल होंगे. यह परीक्षा दो पालियों सुबह (9 से 12 बजे तक दोपहर) और दोपहर (2: 30- 5:30 बजे) में आयोजित की जाएगी. परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवारों को परीक्षा के दौरान COVID -19 संबंधित प्रतिबंधों का पालन करने की आवश्यकता होगी. Also Read - JEE Advanced 2020: MS Dhoni से इंस्पार्ड एक किसान के बेटे ने क्रैक किया JEE Advanced की परीक्षा, गरीब इंजीनियरिंग छात्रों को करना चाहता है मदद

इस नियम के तहत उम्मीदवार को फेस मास्क पहनना, पारदर्शी बोतलों में हैंड सैनिटाइज़र ले जाना  अनिवार्य है. इसके बिना उम्मीदवारों को केंद्रों के अंदर प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. प्रवेश के लिए पंजीकृत और भुगतान करने वाले लगभग 97.94 प्रतिशत उम्मीदवारों को परीक्षा शहरों का आवंटन किया गया है, जो पंजीकरण के दौरान उनके द्वारा चुने गए शीर्ष तीन विकल्पों में आते हैं. Also Read - JEE Advanced Result 2020: जेईई एडवांस का रिजल्ट हुआ घोषित, यहां देखें अपना स्कोर

JEE Advanced Exam 2020 के लिए COVID-19 को लेकर गाइडलाइंस Also Read - JEE Advanced Result 2020 Live: जेईई एडवांस रिजल्ट से पहले वेबसाइट हुई क्रैश, इस डायरेक्ट लिंक से डाउनलोड करें रिजल्ट

उम्मीदवारों को अपना स्वयं का फेस मास्क पहनना चाहिए और उन्हें अपनी खुद की पारदर्शी बोतल में हैंड सैनिटाइज़र ले जाना होगा.

छात्रों को हर समय एक दूसरे से कम से कम छह फीट की दूरी बनाए रखनी होगी. परीक्षा केंद्र के बाहर कतार प्रबंधक / रस्सियों और फर्श के निशान की व्यवस्था की जाएगी. उम्मीदवारों को टेस्ट सेंटर के कर्मचारियों द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करना है.

परीक्षा केंद्र के बाहर प्रयोगशाला / हॉल / कमरे का नंबर प्रदर्शित नहीं किया जाएगा, इसके बजाय, इस विवरण को उम्मीदवारों को सूचित किया जाएगा जब एडमिट कार्ड पर बार कोड स्कैन किया जाएगा.

परीक्षा केंद्र में प्रवेश से पहले उम्मीदवारों को अपने हाथों को साफ करना होगा. उम्मीदवार को COVID-19 स्वयं घोषणा पत्र को भरना होगा.

JEE Advanced Exam 2020 के लिए COVID-19 को लेकर सुझाव

जेईई एडवांस (JEE Advanced 2020) के पेपर को निर्धारित समय सीमा में पूरी तरह से हल करना एक छात्र के लिए कठिन होता है, इसलिए उम्मीदवारों को प्रश्न चयन करने में फुर्ती दिखाना चाहिए. एक प्रश्न पर 10 मिनट से अधिक खर्च करना उचित नहीं है.

पहला पेपर खत्म होने के बाद दोस्तों और माता-पिता के साथ प्रश्नों पर चर्चा नहीं करना उचित है. जिस तरह से पेपर का प्रयास किया जाता है, उसके बावजूद पहले पेपर की प्रतिक्रिया के बाद छात्र घबराएं नहीं.

स्टूडेंट्स ब्रेक टाइम में फॉर्मूला और शॉर्ट नोट्स को रिवाइज कर सकते हैं. छात्रों को दूसरे पेपर के लिए सकारात्मक मानसिकता के साथ अधिक ऊर्जा स्टोर करनी चाहिए.