JEE Main 2021 Date: संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) 2021 (JEE Main 2021) वर्ष 2021 में चार बार आयोजित की जाएगी, लेकिन यह सुविधा सभी के लिए नहीं है. BArch और BPlanning में एडमिशन के लिए पेपर 2 परीक्षा हमेशा की तरह दो प्रयासों में आयोजित की जाएगी. NTA द्वारा जारी नवीनतम नोटिस के अनुसार, पेपर 2A और पेपर 2B दोनों फरवरी और मई सेशन में आयोजित किए जाएंगे. वहीं इंजीनियरिंग के इच्छुक या बीटेक एंट्रेंस के लिए परीक्षा 23 से 26 फरवरी, 15 से 18 मार्च, 27 से 30 अप्रैल और 24 से 28 मई को आयोजित की जाएगी. Also Read - CMAT 2021 Registration: NTA ने CMAT 2021 के लिए आवेदन प्रोसेस किया शुरू, इस Direct Link से करें अप्लाई

परीक्षा में आंतरिक पसंद का विकल्प सभी छात्रों के लिए उपलब्ध होगा. NTA ने निर्णय लिया है कि JEE Main में कुल 90 प्रश्न होंगे और उम्मीदवारों को केवल 75 प्रश्नों को अटेम्प्ट करना होगा. सेक्शन A बहुविकल्पीय प्रश्नों (MCQs) का होगा और सेक्शन B में ऐसे प्रश्न होंगे जिनके उत्तर न्यूमेरिकल वैल्यू के रूप में भरे जाने हैं. सेक्शन बी में छात्रों को 10 में से 5 प्रश्नों को हल करना होगा. नियमानुसार सेक्शन बी के लिए कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी. पेपर 2A और 2B में भी उम्मीदवारों के पास सेक्शन बी में ये विकल्प है. Also Read - JNUEE Result 2020 Declared: NTA ने जारी किया JNUEE 2020 का रिजल्ट, इस डायरेक्ट लिंक से करें चेक 

आधिकारिक नेटिस के अनुसार, “आप किसी भी पांच प्रश्नों का चयन करते हैं और आप उसका उत्तर देते हैं. इसके बाद फाइनल सबमिशन करने से पहले आप अपने आंसर में फेर-बदल कर सकते हैं. आप पहले से चुने गए प्रश्नों से अलग प्रश्नों का चयन कर सकते हैं और प्रश्न पत्र के अंतिम प्रस्तुत करने से पहले उन्हें उत्तर दे सकते हैं. किसी भी समय सेक्शन बी में केवल पांच सवालों के जवाब देने की अनुमति होगी. JEE Main 2021 के लिए आवेदन प्रक्रिया फिलहाल खुली हुई है. उम्मीदवार एक या एक से अधिक सेशनों के लिए एक ही फॉर्म में आवेदन कर सकते हैं. Also Read - JEE Main Exam Update: JEE परीक्षाओं में शामिल होने वाले छात्रों के लिए खुशखबरी! मिलेगा यह मौका...

यदि कोई उम्मीदवार एक अटेम्प्ट से चूक जाता है जिसके लिए उन्होंने आवेदन किया है, तो उन्हें शुल्क वापसी के लिए एक आवेदन देना होगा. वे नियमों के अनुसार उसी वर्ष में अगले सेशन के लिए अपने अटेम्प्ट को आगे बढ़ा सकते हैं. उम्मीदवार बीटेक के लिए केवल एक सेशन में दो बार अटेम्प्ट करते हैं तो रिजल्ट की गणना करते समय उम्मीदवार के सबसे अधिक अंकों पर विचार किया जाएगा. इसके अलावा राष्ट्रीय शिक्षा नीति (National Education Policy 2020) के अनुसार JEE Mains 2021 का आयोजन हिंदी और अंग्रेजी के अलावा असमिया, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, मराठी, ओडिया, पंजाबी, तमिल, तेलुगु, उर्दू में आयोजित किया जाएगा.