Maharashtra Board cut Syllabus: महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को घोषणा की है कि कक्षा 1 से 12वीं तक के सिलेबस को 25 प्रतिशत तक कम किया जाएगा ताकि कोरोना वायरस महामारी के बीच छात्रों पर बोझ को कम किया जा सके. स्कूल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कहा कि पाठ्यपुस्तकों से कौन से पाठ छोड़े गए हैं, इसका विवरण महाराष्ट्र राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (MSCERT) की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा. Also Read - Maharashtra Lockdown Latest Update: महाराष्ट्र में कोरोना के साथ Mucormycosis की आफत, लॉकडाउन पर बड़ा फैसला


शिक्षा मंत्री ने अपने एक बयान में कहा कि चूंकि स्कूलों को फिर से खोला नहीं है, इसलिए सरकार छात्रों पर बोझ कम करना चाहती है, इसलिए शैक्षणिक वर्ष 2020-21 के लिए पाठ्यक्रम में 25 प्रतिशत की कमी की जाएगी. उन्होंने कहा कि  फिलहाल स्कूल बंद हैं, लेकिन शैक्षणिक वर्ष 15 जून से शुरू हो गया है और सीखने के विभिन्न वैकल्पिक तरीकों को अपनाया जा रहा है.

इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने कोविड—19 महामारी से उपजे हालात में शिक्षण सत्र को नियमित करने के लिये माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) के पाठ्यक्रम में 30 फीसद की कमी करने का फैसला किया था. राज्य के उप मुख्यमंत्री और माध्यमिक शिक्षा मंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने कहा था कि कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए सत्र को नियमित करने के लिये सरकार ने माध्यमिक शिक्षा परिषद के पाठ्यक्रम को 30 प्रतिशत कम करने का महत्वपूर्ण फैसला किया है.