Maharashtra FYJC Admissions 2020: प्रथम वर्ष के जूनियर कॉलेज (FYJC) सीट के लिए आवेदन करने वाले छात्रों को अब एक नए विकल्प, ‘जानें अपनी एलिजिबिलिटी’ के तहत उपलब्ध कॉलेज विकल्पों की सूची इस साल से ऑनलाइन पोर्टल पर देखने को मिलेगी. इस पोर्टल के जरिए एक रीजन के सभी कॉलेजों का विवरण जैसे फीस और विषयों के बारे में जान सकते हैं. आज से ही कक्षा 11वीं के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया भी शुरू हो गई है. Also Read - MSBSHSE 10th Result 2020 Declared: महाराष्ट्र बोर्ड 10वीं में लड़कियों ने मारी बाजी, पिछले 10 सालों से बेहतर रहा रिजल्ट

2020-21 के लिए मुंबई महानगर क्षेत्र (MMR) में 819 कॉलेजों के लिए लगभग 3.19 लाख सीटें हैं. राज्य के शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने शनिवार दोपहर FYJC (https://11thadmission.org.in) पोर्टल का उद्घाटन किया. इस वर्ष कोविड -19 के प्रकोप के कारण शिक्षा विभाग ने राज्य भर के छह क्षेत्रों- मुंबई, पुणे, नासिक, नागपुर, औरंगाबाद और अमरावती में छात्रों के लिए शून्य-संपर्क प्रवेश प्रक्रिया शुरू की है. छात्र इस साल ऑनलाइन आवंटित कॉलेज में अपनी सीट की पुष्टि करने के लिए अपने प्रवेश पत्र भरने से लेकर पूरी प्रवेश प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं. Also Read - MSBSHSE 10th Result 2020 Declared: महाराष्ट्र बोर्ड ने जारी किया 10वीं का रिजल्ट, ऐसे चेक करें अपना मार्क्स

शनिवार शाम तक पोर्टल पर 1.92 लाख से अधिक छात्र पंजीकृत थे, जिनमें से 1.72 लाख से अधिक राज्य बोर्ड स्कूलों से हैं. गायकवाड़ ने ने ट्वीट किया, “हम वर्तमान स्थिति और संबंधित चुनौतियों को समझते हैं और इसलिए प्रवेश प्रक्रिया को सरल बनाया है. हमने पिछले वर्षों में रिपोर्ट की गई प्रक्रिया को सुचारू बनाने के लिए रिपोर्ट की गई glitches को सही करने की कोशिश की है.” उन्होंने कहा कि मुंबई महानगर क्षेत्र में 11 वीं ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया के लिए पुणे-पिंपरी चिंचवाड़, नासिक, औरंगाबाद, अमरावती, नागपुर नगरपालिका क्षेत्र  के लिए इस वेबसाइट https://11thadmission.org.in का आज उद्घाटन किया गया. Also Read - MSBSHSE 10th Result 2020: महाराष्ट्र बोर्ड 10वीं का रिजल्ट कुछ ही देर में होगा जारी, ये रहा चेक करने का डायरेक्ट लिंक

इस वर्ष विभाग ने प्रवेश पोर्टल में कई सुविधाएँ जोड़ी हैं. उस सुविधा के अलावा जो छात्रों को पिछले कट-ऑफ और कॉलेजों को उनकी स्कोर सीमा में चेक करने की अनुमति देता है, पोर्टल उन्हें ऑनलाइन फॉर्म भरने के संबंध में अपनी शिकायतों को दूर करने की अनुमति देगा. आईजीसीएसई और आईसीएसई बोर्ड के छात्र जिन्हें प्रवेश प्रक्रिया के लिए अपने ग्रेड को अंकों में परिवर्तित करने के लिए आमतौर पर मार्गदर्शन केंद्रों से संपर्क करना पड़ता है, वे अब इसे पोर्टल पर ही कर सकते हैं. छात्रों को कॉलेज में अपने मूल दस्तावेज जमा करने के लिए तीन महीने की विंडो अवधि दी जाएगी.

1 अगस्त से छात्रों के लिए फॉर्म भाग 1 को भरने के लिए पोर्टल खोला गया है, जिसमें बुनियादी विवरण शामिल हैं. विभाग बाद में भाग 2 भरने की तारीखों पर छात्रों को सूचित करेगा, जिसमें प्रवेश अंक और कॉलेज की प्राथमिकताएं शामिल हैं. विभाग की योजना एक मोबाइल एप्लीकेशन बनाने की भी है. विभाग के एक अधिकारी ने कहा, “इसका परीक्षण किया जा चुका है और जल्द ही इसे लॉन्च किया जाएगा.”