Maharashtra State Board 10th Result Update: महाराष्ट्र राज्य माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने सोमवार को बंबई हाईकोर्ट से कहा कि उसने अब तक इस बात का फॉर्मूला तैयार नहीं किया है कि 10वीं के विद्यार्थियों का मूल्यांकन एवं अंक आवंटन कैसे करना है. मालूम हो कि इस साल 10वीं की बोर्ड परीक्षाएं कोविड-19 महामारी के चलते रद्द कर दी गई हैं. न्यायमूर्ति एसजे कठावाला और न्यायमूर्ति एसपी तावड़े की खंडपीठ धनंजय कुलकर्णी नामक एक प्रोफेसर की जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही थी. याचिकाकर्ता ने 10वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने को चुनौती दी है. याचिका में ICSE और CBSE बोर्डों के ऐसे ही निर्णयों को भी चुनौती दी गई है. Also Read - MSBSHSE 10th Result 2020: इस दिन जारी हो सकते हैं दसवीं बोर्ड के रिजल्ट, यहां देखें टाइम और डायरेक्ट लिंक

कुलकर्णी के वकील उदय वरूंजिकार ने सोमवार को दलील दी कि हर बोर्ड की अलग अलग अंक आवंटन प्रणाली है जिससे विद्यार्थियों को ग्यारहवीं कक्षा में दाखिला लेने में परेशानियां होंगी. उन्होंने कहा, ‘केंद्र सरकार को दखल देना होगा और उसे एकसमान नीति लेकर सामने आना होगा.’ केंद्र के वकील संदेश पाटिल ने कहा कि केंद्र का सीबीएसई बोर्ड पर कुछ नियंत्रण है, लेकिन ICSE और एसएससी बोर्ड स्वायत्त हैं, इसलिए उन पर उसका कोई नियंत्रण नहीं है. Also Read - MSBSHSE Maharashtra Board 10th Result 2020:महाराष्ट्र बोर्ड जल्द जारी करेगा 10वीं का रिजल्ट, जानें घोषित होने का डेट और टाइम

एसएससी बोर्ड के वकील किरण गांधी ने अदालत से कहा कि याचिका दायर करने में जल्दबाजी की गयी है. उन्होंने कहा कि बोर्ड ने अभी इस बात का फॉर्मूला तैयार नहीं किया है कि 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों को अंक आवंटन कैसे करना है, ऐसे में अभी बोर्ड की परीक्षा समिति इस पर एक फार्मूला तैयार करेगी और उसे अंतिम मंजूरी के लिए राज्य सरकार के पास भेजा जाएगा. Also Read - Maharashtra SSC class 10th result 2016 declared: check online at website Mahresult.nic.in: Check Maharashtra class X result here at Mahahsscboard.maharashtra.gov.in। SSC News in Hindi। Maharashtra SSC class 10th result 2016: महाराष्ट्र बोर्ड 10 वी के नतीजे घोषित, यहाँ देखे रिजल्ट

अदालत ने एसएससी और अन्य प्रतिवादियों (केंद्र , सीबीएसई बोर्ड एवं आईसीएसई बोर्ड) को इस याचिका पर जवाब देने का निर्देश दिया. मामले की अगली सुनवाई 19 मई को होगी.

(इनपुट: भाषा)