UGC Guidelines: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को शनिवार को पत्र लिखकर आग्रह किया कि यूजीसी के दिशानिर्देशों पर फिर से विचार करें जिसमें कॉलेजों एवं विश्वविद्यालयों में सितम्बर के अंत तक फिर से परीक्षा आयोजित करना अनिवार्य किया गया है. Also Read - कोरोना महामारी के बीच पीएम मोदी ने देश के किसानों को दी बड़ी सौगात, 1 लाख करोड़ की योजना को किया लॉन्च

मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में कहा कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के छह जुलाई के दिशानिर्देश का छात्र हितों पर विपरीत असर होगा. बनर्जी ने अपने पत्र में कहा, ‘‘मैं समझती हूं कि विभिन्न राज्यों ने भारत सरकार के साथ मुद्दे को उठाया है, अपनी चिंताएं व्यक्त की हैं और नये दिशानिर्देशों से असहमति जताई है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं इसलिए आपसे आग्रह करती हूं कि मामले पर तुरंत पुनर्विचार किया जाए….’’ Also Read - New Education Policy 2020: रमेश पोखरियाल NEP पर चर्चा करने के लिए सोमवार को सोशल मीडिया पर होंगे लाइव 

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली विश्वविद्यालय और देश के अन्य केंद्रीय विश्वविद्यालयों के अंतिम वर्ष की परीक्षाओं को रद्द करने का आग्रह किया था. केजरीवाल ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखे पत्र में कहा, “केंद्र सरकार और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) छात्रों के हित में अपनी गाइडलाइंस में बदलाव करें और अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा रद्द करें.” Also Read - DU Open Book Exam: हाई कोर्ट ने डीयू को परीक्षा आयोजित कराने की दी मंजूरी, जानें कब से शुरू होगा एग्जाम