MSBSHSE 10th Result 2020 Declared: महाराष्ट्र स्टेट बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एंड हायर एजुकेशन (MSBSHSE) ने बुधवार 29 जुलाई को राज्य SSC या 10वीं रिजल्ट घोषित कर दिया है. इस साल MSBSHSE अधिकारियों ने रिजल्ट घोषित करते हुए कहा कि कुल पास प्रतिशत में 18.20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. मार्च 2020 की परीक्षाओं के लिए उपस्थित होने वाले नए उम्मीदवारों का कुल उत्तीर्ण प्रतिशत 95.30 था. अधिकारियों ने कहा कि लड़कों की तुलना में लड़कियों ने बेहतर परफॉर्मेंस किया है.Also Read - Maharashtra HSC result 2022: महाराष्‍ट्र बोर्ड कक्षा 10वीं और 12वीं का रिजल्‍ट इस तारीख को हो सकता है जारी, चेक करें संभावित तारीख

छात्र अपने विषयवार रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट mahresult.nic.in पर जाकर देख सकते हैं और यहां तक ​​कि उसका प्रिंट-आउट भी ले सकते हैं. इसके अलावा छात्र अन्य वेबसाइटें sscresult.mkcl.org और maharashtraeducation.com पर भी रिजल्ट चेक कर सकते हैं. इस साल SSC परीक्षा के लिए कुल 17,65,898 (9,75,894 लड़के, 7,89,898 लड़कियां) उम्मीदवारों ने पंजीकरण कराया था, जो 3-23 मार्च तक आयोजित किए गए थे. आखिरी परीक्षा का पेपर कोविड -19 महामारी के कारण रद्द कर दिया गया था और उसके लिए अंकों की गणना अन्य विषयों के औसत के आधार पर की गई थी. Also Read - Maharashtra Board Paper Leak: 12वीं केमिस्ट्री परीक्षा का पेपर हुआ लीक, कोचिंग टीचर गिरफ्तार

MSBSHSE के चेयरपर्सन शकुंतले काले ने कहा कि नौ डिवीजनों में कोंकण 98.77 प्रतिशत के साथ शीर्ष पर है और औरंगाबाद डिवीजन 92 प्रतिशत के साथ सबसे नीचे है. जिन विशेष छात्रों ने परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था, उनमें से 92.73 प्रतिशत ने परीक्षा दी है. अंकों के पुनर्मूल्यांकन के लिए छात्रों को 30 जुलाई से 8 अगस्त के बीच आवेदन करना होगा जबकि उत्तर पुस्तिकाओं की फोटोकॉपी प्राप्त करने के लिए छात्र 30 जुलाई से 18 अगस्त तक आवेदन कर सकते हैं. Also Read - Maharashtra School Reopening : सोमवार से शुरू होंगे स्‍कूल, सीएम उद्धव ठाकरे ने दी मंजूरी

उत्तर पुस्तिकाओं की जांच के लिए छात्रों को पहले एक ऑनलाइन आवेदन भरने के बाद इसकी एक प्रति प्राप्त करनी होती है, उसी की सेल्फ अटेस्ट करके उसे फोटोकॉपी प्राप्त करने के पांच दिनों के भीतर वेबसाइट पर अपलोड करना होता है. उत्तर पुस्तिकाओं की जांच करने के इच्छुक छात्र अपने संबंधित मंडल से संपर्क कर सकते हैं. उन छात्रों के लिए जिन्होंने परीक्षा पास की है, लेकिन वह अंकों में इंप्रूवमेंट के लिए उपस्थित होना चाहते हैं, तो उन्हें परीक्षा में केवल दो प्रयास दिए जाएंगे.