मुंबई. यहां का एक स्टूडेंट आईआईटी नहीं क्रैक नहीं कर पाया था, लेकिन जब उसके कॉलेज से उसका प्लेसमेंट होता है तो वह हासिल कर लेता है जिसकी बड़े-बड़े आईआईटीयन्स ख्वाहिश रखते हैं. 21 साल के अब्दुल्लाह खान को गूगल लंदन दफ्तर से 1.2 करोड़ के पैकेज पर जॉब ऑफर आया है. खास बात ये है कि शहर में नॉन आईआईटी इंजीनियर्स का औसतन पैकेज 4 लाख का होता है, लेकिन अब्दुल्ला ने एक नई ही लाइन खींच दी है.,

श्री एलआर तिवारी इंजीनीयरिंग कॉलेज के स्टूडेंट अब्दुल्लाह को गूगल ने कंपीटेटिव प्रोग्रामिंग चैलेंज होस्ट करने वाली एक कंपनी के माध्यम से इंटरव्यू के लिए बुलाया. पहले कुछ ऑनलाइन इंटरव्यू के बाद उसे फाइनल इंटरव्यू के लिए गूगल के लंदन दफ्तर में बुलाया गया, जहां उसके काबिलियत के बल पर उसका सिलेक्शन हो गया.

ये है सैलरी
छह अंको की सैलरी में उसकी बेस सैलरी 54.5 लाख की है. इसमें 15% बोनस और 58.9 लाख रुपये का स्टॉक ऑप्शन भी दिया गया है. अब्दुल्लाह अभी बीई कंप्यूटर साइंस के लास्ट ईयर में हैं. अब वह गूगल की साइट की इस साल सितंबर में ज्वाइन करेंगे.

सऊदी अरब से मुंबई पहुंचे हैं अब्दुल्लाह
अब्दुल्लाह ने अंग्रेजी वेबसाइट टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि जब कंपनी ने उनसे संपर्क किया तो उन्होंने एक टास्क के तौर पर यहां अप्लाई किया. मैं अब टीम को ज्वाइन करने को लेकर उत्साहित हूं. बता दें कि अब्दुल्ला की स्कूलिंग सऊदी अरब में हुई है और वह उसके बाद मुंबई आ गए थे.