नई दिल्ली: ई-शिक्षा को और ज्यादा रचनात्मक बनाने के लिए एनसीईआरटी और रोटरी इंडिया ने एक समझौता किया है. एनसीईआरटी के सभी टीवी चैनलों पर कक्षा 1 से 12 के लिए प्रसारित होने वाली ई-शिक्षण सामग्री के लिए इस समझौता ज्ञापन पर डिजिटल हस्ताक्षर किए. Also Read - एनसीईआरटी ने कक्षा 1 से 5 के छात्रों के लिए बनाया 8 हफ्ते का वैकल्पिक एकेडमिक कैलेंडर

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, “यह जानकर बड़ी प्रसन्नता महसूस हो रही है कि विद्या दान 2.0 के अंतर्गत रोटरी इंटरनेशनल कक्षा 1 से 12 के सभी विषयों के लिए एनसीईआरटी को हिंदी भाषा में ई-कंटेंट उपलब्ध कराएगा. यह सामग्री उच्च श्रेणी की है और उच्च गुणवत्ता वाली है. इससे हमारे सभी बच्चों को बहुत फायदा पहुंचेगा.” Also Read - JEE & NEET Exams Date: एक बार फिर टल सकती हैं परीक्षाएं, जानें अब कहां आ रही रुकावट

निशंक ने कहा, “इसके साथ-साथ रोटरी इंटरनेशनल द्वारा विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के लिए सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी और साथ ही वयस्क साक्षरता मिशन में वह अपना संपूर्ण योगदान देगा.” निशंक ने कहा, “हमने रेडियो और टीवी के माध्यम से अपने छात्रों तक पहुंचने का संकल्प लिया है जहां पर इंटरनेट या मोबाइल कनेक्टिविटी उपलब्ध नहीं है और यह समझौता ज्ञापन उस दिशा में एक बहुत बड़ा कदम है.” Also Read - Sarkari Naukri 2020: NCERT Recruitment 2020: NCERT में इन विभिन्न पदों पर निकली वैकेंसी, बिना एग्जाम होगा सेलेक्शन, बस करना होगा ये काम 

एनसीईआरटी और रोटरी इंडिया ह्यूमेनिटी फाउंडेशन के बीच समझौता ज्ञापन पर एनसीईआरटी के निदेशक, प्रो. हृषिकेश सेनापति और एनसीईआरटी के संयुक्त निदेशक, प्रो. अमरेन्द्र बेहरा और रोटरी इंडिया की ओर से, निदेशक, रोटरी इंडिया वाटर मिशन, रंजन ढींगरा ने हस्ताक्षर किए.