NEET 2020 Counselling: मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (MCC) ने मंगलवार को NEET Counselling 2020 के लिए राउंड 1 पंजीकरण प्रक्रिया को बुधवार, 28 अक्टूबर, 2020 तक के लिए स्थगित कर दिया है. इस निर्णय के बारे में एक नोटिस समिति की आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है. MMC जल्द ही NEET 2020 Counselling के लिए नई डेट जारी करेगा.Also Read - NEET 2021 Registration: NEET 2021 के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ़ी, अब इस दिन तक करें अप्लाई, जानें तमाम डिटेल

आधिकारिक वेबसाइट पर जारी नोटिस के अनुसार, “यह सभी उम्मीदवारों की जानकारी के लिए है कि NEET UG Counselling 2020 को कुछ तकनीकी कारणों से आज यानि 28 अक्टूबर, 2020 तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. अपडेट की गई शेड्यूल को MCC वेबसाइट पर जल्द ही जारी किया जाएगा.” पंजीकरण शुरू होने के बाद जिन उम्मीदवारों ने NEET Exam 2020 उत्तीर्ण की है, वे NEET 2020 Counselling के पहले दौर के लिए आधिकारिक वेबसाइट mcc.nic.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे. Also Read - NEET Exams 2021 Update: क्या रद्द होंगी नीट सहित दूसरी प्रवेश परीक्षाएं? जानिए लोकसभा में क्या बोली सरकार

इसके अलावा उम्मीदवार सीधे इस लिंक https://mcc.nic.in/UGCounselling/Home/ShowPdf?Type=E0184ADEDF913B076626646D3F52C3 पर क्लिक करके आधिकारिक नोटिफिकेशन देख सकते हैं. Also Read - NEET 2021 Exam Date: 12 सितंबर को NEET परीक्षा का आयोजन, 13 जुलाई से कर सकेंगे आवेदन

NEET 2020 Counselling ऐसे करें आवेदन

आधिकारिक वेबसाइट mcc.nic.in पर जाएं.
होमपेज पर उस लिंक पर क्लिक करें, जहां, “यूजी मेडिकल काउंसलिंग” लिखा हो.
बाईं ओर उस लिंक पर क्लिक करें, जहां, ’नया पंजीकरण’ लिखा हो.
सभी आवश्यक जानकारी भरें और सबमिट करें.
एक नया रोल नंबर और पासवर्ड जेनरेट होगा.NEET 2020 Counselling के लिए पंजीकरण करने के लिए इन क्रेडेंशियल्स का उपयोग करें.
वेब पोर्टल पर फिर से जाएँ और ‘उम्मीदवार लॉगिन’ चुनें.
अपने क्रेडेंशियल्स और लॉगिन की दर्ज करें.
सभी आवश्यक विवरण भरें और सबमिट करें.

इसके बाद आपको NTA डेटाबेस के अनुसार अपने सभी विवरण दिखाए जाएंगे. जानकारी सत्यापित करें और ‘पंजीकरण की पुष्टि करें’ पर क्लिक करें. एक पंजीकरण पर्ची जारी की जाएगी. अब आप पंजीकरण पृष्ठ का एक प्रिंटआउट ले सकते हैं.

पंजीकरण के बाद आवेदन शुल्क का भुगतान करें.

उम्मीदवारों को अपनी पसंद के अनुसार पाठ्यक्रम और कॉलेजों के विकल्प भरने हैं. उम्मीदवारों को प्राथमिकता के क्रम में वरीयताओं को चुनने की सलाह दी जाती है.