New Education Policy 2020: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी (Vijay Rupani) ने शनिवार को शिक्षक दिवस के मौके पर कहा कि उनकी सरकार का लक्ष्य राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) 2020 को लागू करना है और जल्द ही इसके लिए रोड मैप बनाने के लिए एक टास्क फोर्स बनाई जाएगी. रूपानी (Vijay Rupani) गांधीनगर में शिक्षक दिवस (Teacher’s Day) के अवसर पर 44 शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे. Also Read - New Education Policy 2020: रमेश पोखरियाल ने कहा- इस शिक्षा नीति को अपने यहां लागू करने के लिए मंत्रालय से 10 देशों ने किया संपर्क 

मुख्यमंत्री ने कहा, “नए NEP का गुजराती में अनुवाद किया गया है, और जल्द ही गुजरात के लिए एक रोड मैप बनाने के लिए एक टास्क फोर्स का गठन किया जा रहा है.” उन्होंने कहा कि इस रोड मैप के आधार पर राज्य शिक्षा में प्राथमिक से माध्यमिक और उच्च शिक्षा के लिए केजी से पीजी तक (बालवाड़ी से लेकर पोस्ट ग्रेजुएशन तक) भारी बदलाव होगा. उन्होंने आगे कहा कि शिक्षा नीति (New Education Policy) को लागू करने वाला गुजरात पहला राज्य बनना चाहिए. हमें भविष्य के भारत के निर्माण के लिए रोल मॉडल बनने के लिए तेजी से आगे बढ़ना चाहिए. समारोह में राज्यपाल आचार्य देवव्रत (Gujarat Governor) के साथ-साथ शिक्षा के कैबिनेट और राज्य मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा और विभावरी दवे और शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे. Also Read - New Education Policy in Bihar: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गिनाए फायदे, कहा- नई शिक्षा नीति नूतन और पुरातन शिक्षा का समागम है

उन्होंने कहा, “औद्योगिकीकरण के युग में जब लोग केवल अपने और अपने करियर के बारे में परवाह करते हैं, यह शिक्षक हैं, जो कम वेतन दिए जाने के बावजूद एक नई पीढ़ी का निर्माण करते हैं और लोगों को भविष्य के भारत की देखभाल करने के लिए तैयार करते हैं.” मुख्यमंत्री ने कहा कि यह राज्य में शिक्षकों और स्कूलों की ताकत के कारण है कि उनकी सरकार ने इस प्रवृत्ति को उलट दिया है, जिससे अभिभावक अपने बच्चों को निजी से सरकारी स्कूलों में भेज रहे हैं. Also Read - New Education Policy 2020: केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा- नई शिक्षा नीति नौकरियों और एंटरप्रेन्योर को क्रिएट करने में करेगा मदद